प्रदेश सरकार के तुगलकी फरमान से टूटी किसानों की कमर।


 
उज्जैन आज पूरा देश कोरोना वायरस जैसी वैश्विक महामारी के दौर से गुजर रहा है। महामारी से पहले भी किसानों की आमदनी कम ही थी, किंतु लॉक डाउन कर्फ्यू के कारण किसानों की आमदनी काफी प्रभावित हुई है । फसल को खेत से लेकर मंडी तक लाने में किसानों पर मुसीबत का पहाड़ टूटा है ।इसमें छोटे ,मझोले और बड़े हर किसानकि तकरीबन एक ही समस्या है ।
किसानों को लॉक डाउन कर्फ्यू में अनेक दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है ।इसको लेकर कांग्रेस ब्लॉक अध्यक्ष विजय पटेल चिंतामन जवासिया ने चर्चा के दौरान बताया कि वैश्विक महामारी के दौर में आमजन ही  परेशान नही हैं बल्कि किसानों को सबसे बड़ी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। क्योंकि संकट इस घड़ी में किसान को दो लड़ाई लड़ना पढ़ रही  है ।वह बाहर जाकर माल नहीं बैच सकता है,वहीं किसानों का जितना माल है वह सोसायटी पर  तुलेगा ।मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के फरमान जिसमें यह कहा गया कि किसानों का जितना भी माल सोसायटी में तुलेगा इसमें से किसानों का बकाया ऋण काटा जाएगा ।जबकि पूर्व में केसीसी पर ब्याज नहीं लेने की बात कही गई थी ।
विडंबना यह है कि महामारी के इस दौर में सरकार को जहां किसानों की स्थिति सुधारने व किसानों की आमदनी बढ़ाने की जरूरत है।


Popular posts
भोपाल में 2 से 4 दिसंबर के बीच लगेगा विशाल कृषि मेला; नव तकनीक, जैविक उत्पादों और स्टार्टअप्स के लिए नए मौके • जैविक उत्पादकों के लिए बी2बी बी2सी मार्केट व्यवस्था • किसान सलाहकार बूथ और नई तकनीकों की प्रदर्शनी • किसान फार्मर व जैविक-प्राकृतिक कृषि पर विशेष जोर
Image
बॉलीवुड अभिनेता आयुष मेहरा ने एक रोमांचक प्रोजेक्ट की शूटिंग के दौरान दुबई शहर किया एक्स्प्लोर*
Image
एसबीआई जनरल इंश्योरेंस ने लॉन्चन किया #बहाने छोड़ो टैक्स बचाओ; स्वास्थ्य बीमा के साथ टैक्स बचाने पर एक अनोखा वॉक्स पॉप कैंपेन
Image
एथर एनर्जी ने बिहार में की रिटेल बिक्री की शुरुआत; पटना में अपने पहले एक्सपीरियंस सेंटर का उद्घाटन किया
Image
पैशन के पीछे भागने से बेहतर उसे जीवित रखना - एक्टर-
Image