स्प्राकइट के नये ‘ठंड रख’ कैम्पेरन ने अपने दर्शकों से वास्ताव में ‘कूल’ रहने की अपील की ताजगी देने वाले इस पेय का लक्ष्य चिलचिलाती गर्मी का मौसम आते ही अपने उपभोक्ताीओं की जिन्देगी का अहम



 


नई दिल्लीा, 20 अप्रैल, 2022: देश की प्रमुख पेय कंपनियों में से एक कोका-कोला इंडिया ने नींबू और लाइम फ्लेिवर वाले भारत के पसंदीदा पेय स्प्रा्इट के लिये नया ‘ठंड रख’ कैम्पेोन पेश किया है। इस कैम्पेंन में हल्की्-फुल्की् नोंकझोंक दिखाई गई है, जो चिलचिलाती गर्मी आते ही ताजगी देने वाला भरोसेमंद पेय होने के अपने ब्राण्डल के मूल संदेश को दोहराती है।


‘ठंड रख’ कैम्पे न 20 अप्रैल से पूरे देश में प्रसारित होने जा रहा है और इसे उन टीनेजर्स और युवाओं को आकर्षित करने के लिए बनाया गया है, जो चुनौतियों का सामना करने और दुनिया को एक्लोर्म    र करते समय थकाने वाली स्थितियों से हार मान लेते हैं। यह कैम्पेिन उनसे चुनौती वाले पलों में कूल बने रहने का आग्रह करता है और उन्हेंत स्प्राेइट की एक ठंडी बोतल लेकर दोबारा सोचने और शांत रहने के लिये प्रोत्सािहित करता है।


नींबू के स्वा्द वाला अनूठा और जोशीला स्प्राेइट उपभोक्तायओं को तुरंत ताजगी देने के लिये जाना जाता है और भारत में फ्लेवर्ड कार्बोनेटेड पेय की श्रेणी में #1 ब्राण्डो है। यह ब्राण्ड  आने वाले समय में कंपनी के लिये एक महत्वमपूर्ण भूमिका निभाना जारी रखेगा, क्योंटकि यह घरेलू अवसरों और चलते-फिरते ताजगी लेने के लिये एक बेहतरीन स्वा द वाला पेय मुहैया कराता है।


नये कैम्पे्न के बारे में टिश कोंडेनो, सीनियर डायरेक्टहर, स्पाफर्कलिंग फ्लेवर्स कैटेगरी, कोका-कोला आईएनएसडब्यूल   ए, ने कहा, “स्प्राटइट हमेशा से उपभोक्ताफ के दिमाग और शरीर को ताजगी देने के लिये मशहूर रहा है। अब गर्मी आ चुकी है, इसलिये हम ठंडे स्प्रा इट की पेशकश करना चाहते हैं, ताकि हर किसी को चिलचिलाती गर्मी से ठंडक मिले और रोजाना के तनाव और दबाव वाले पलों से राहत मिले। ‘ठंड रख’ कैम्पेकन हमारे दर्शकों से भारत का ताजगी देने वाला निर्णायक पेय ‘स्प्रा इट’ लेने और कूल रहने का आग्रह करता है, खासकर उस समय जब वे गर्मी से मुकाबला करें और ‘न्यूस नॉर्मल’ की अनगिनत चुनौतियों को झेलें। हमारे ब्राण्ड्सा का हमेशा खपत के विभिन्नब अवसरों पर महत्वू बढ़ाने का इरादा रहता है और इस गर्मी में स्प्रा इट भारत को चिल करने और कूल बनाए रखने के लिये तैयार है।‘’


ऑगिल्वीर इंडिया के चीफ क्रियेटिव ऑफिसर सुकेश नायक ने कहा, “स्प्रानइट हमेशा से स्माेर्ट लोगों का ताजगी देने वाला पसंदीदा पेय रहा है। और स्मा र्ट लोग अच्छीम तरह से जानते हैं कि नोंकझोंक वाली स्थिति में ‘ठंड रख’ और अपना आपा खोए बिना अपने तरीके से काम निपटाना सबसे अच्छा  होता है। हमारी भाषा से प्रेरित यह नई पोजिशनिंग सचमुच ऐसे लोगों से जुड़ेगी और जरूरत से ज्यानदा गर्मी से भरी दुनिया में स्थितियों को नियंत्रित रखने में मदद करेगी।”


ऑगिल्वीत इंडिया (नॉर्थ) की चीफ क्रियेटिव ऑफिसर ऋतु शारदा ने कहा, “गर्मी बढ़ने और पारा चढ़ने के साथ, हम जानते हैं कि हर स्थिति में एक व्यीक्ति शांत रहेगा, क्योंेकि वह स्माार्ट है और उसने स्प्रा़इट पर भरोसा किया है। कई वर्षों से स्प्रा इट वाला आदमी स्माफर्ट है। इस साल हमने गर्मी की चुनौती को थोड़ा और बढ़ाया है, जिसमें गर्मी आपसे बेतुके काम करने के लिये कह रही है। और हमेशा की तरह स्प्रा इट वाले स्मा र्ट लोग जानते हैं कि क्याग करना है। सबसे कूल और स्माकर्ट, ‘ठंड रख’ वाले तरीके से।‘’ 


व्यं्ग्यन करने वाला यह कैम्पेयन हल्के -फुल्केर अंदाज में दिखाता है कि आज के जमाने में टीनेजर्स और युवा कैसे पलक झपकते अपना आपा खो बैठते हैं। फिर दिखाया जाता है कि स्प्रा इट का एक घूंट कैसे ‘गर्मी’ उतारता है और कुछ ही सेकंड में स्प्रािइट पीने वाले को शांत कर देता है। यह कैम्पेमन एकदम अलग हटकर है और कोका-कोला कंपनी के उद्देश्यआ- ‘दुनिया को ताजगी देना, बदलाव लाना’, के साथ सटीक तरीके से जुड़ा है। यह देशभर के टेलीविजन चैनलों पर प्रसारित होगा। साथ ही इसे लेकर डिजिटल तथा ओओएच मार्केटिंग की कोशिशें भी होंगी।


बीते वर्षों में स्प्रासइट ने न केवल खुद को निर्विवाद रूप से युवाओं के ब्राण्ड  के तौर पर स्थाीपित किया है, बल्कि अपनी मार्केटिंग के प्रयासों से प्रामाणिक, पैनी और शहरी चर्चाओं का नेतृत्वण भी कर रहा है। नये कैम्पेपन के माध्यमम से स्प्रा इट एक बार फिर ऐसे उपभोक्तारओं की पसंद के पेय के रूप में खुद को स्था।पित करना चाहता है, जो अपने रास्ते  में आने वालीं कठिन स्थितियों से निपटना चाहेंगे या जो केवल गर्मी से राहत चाहते हैं और चि‍लचिलाती गर्मी के आने वाले महीनों में ‘चिल’ करना और ‘कूल’ बने रहना चाहते हैं।

कैम्पेेन का लिंक: www.youtube.com/watch?v=EpJzyHYxEZo

Popular posts
मध्य प्रदेश विपणन संघ और परिवहन एजेंसी की लापरवाही उजागर
Image
नए अध्ययन में सामने आया कि भारत में हर 10 में से 9 ग्राहक सुरक्षा रेटिंग वाली कार खरीदना चाहते हैं इस सर्वे को स्कोडा ऑटो इंडिया ने कमीशन किया और एनआईक्यू बेसेस ने पूरा किया। भारत में 92 प्रतिशत ग्राहक क्रैश के लिए टेस्ट की गई और सेफ्टी रेटिंग की कार चाहते हैं। 47.6 प्रतिशत भारतीय कार में अन्य विशेषताओं से ज्यादा महत्व सुरक्षा को देते हैं। कार खरीदने के निर्णय में क्रैश-रेटिंग प्राथमिकताओं की सूची में सबसे ऊपर है। कार खरीदने के निर्णय में फ्यूल एफिशियंसी तीसरे स्थान पर है। 91 प्रतिशत का मानना है कि सुरक्षा विशेषताओं के आधार पर कारों को प्रोत्साहन देना काफी प्रभावशाली होगा। बच्चों/पीछे की सीट पर बैठे लोगों के लिए पृथक सुरक्षा रेटिंग को लेकर केवल 30 प्रतिशत ग्राहक जागरुक हैं। कार खरीदने के लिए सबसे पसंदीदा क्रैश रेटिंग 5-स्टार क्रैश रेटिंग है।
Image