अब एमपी ऑनलाइन से किसानों को मिलेगी खसरा खतौनी की नकल।

 


उज्जैन 28 फरवरी। राज्य शासन के निर्णय अनुसार भू-अभिलेख की प्रतियों को प्रदाय करने की कार्यवाही एमपी ऑनलाइन से प्रारम्भ की जा रही है। उज्जैन जिले में सम्पूर्ण प्रदेश की तरह 2 मार्च से समारोह आयोजित कर एमपी ऑनलाइन से किसानों को खसरा खतौनी, वाजिब उल अर्ज, निस्तार पत्रक एवं नक्शे आदि की प्रति प्रदान करना प्रारम्भ किया जायेगा। किसानों को एमपी ऑनलाइन कियोस्क से एक साला/पांच साला खसरा या खाता जमाबन्दी, अधिकार अभिलेख, खेवट आदि के लिये प्रथम पृष्ठ के लिये 30 रुपये तथा अतिरिक्त प्रत्येक पृष्ठ के लिये 15 रुपये देना होंगे। इसी तरह वाजिब उल अर्ज, निस्तार पत्रक के लिये 30 रुपये प्रथम पृष्ठ के लिये एवं अतिरिक्त पृष्ठ के लिये 15 रुपये तथा ए4 साईज के आकार में नक्शे की प्रति के लिये 30 रुपये प्रथम पृष्ठ व अतिरिक्त पृष्ठ के लिये 15 रुपये का शुल्क जमा करना होगा। कलेक्टर श्री शशांक मिश्र ने सभी एमपी ऑनलाइन कियोस्क पर समारोहपूर्वक भू-अभिलेख की प्रतियां किसानों को वितरित करने के निर्देश दिये।