बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ कार्यक्रम संपन्न । मेगा इवेंट में सैकड़ों बालक बालिकाओं ने लिया हिस्सा ।


उज्जैन 23 फरवरी। जिला महिला सशक्तिकरण अधिकारी श्री साबिर अहमद सिद्धिकी द्वारा जानकारी दी गई कि विगत शनिवार को बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ कार्यक्रम के अन्तर्गत दशहरा मैदान के प्रांगण में मेगा इवेन्ट का आयोजन किया गया। इसमें बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ थीम पर निबंध, चित्रकला, कविता लेखन और नारा लेखन प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया। इन प्रतियोगिताओं में आठ वर्ष से लेकर 18 वर्ष तक के लगभग 700 बालक-बालिकाओं ने हिस्सा लिया।


कार्यक्रम के मुख्य अतिथि जिला पंचायत अध्यक्ष श्री करण कुमारिया ने अपने सम्बोधन में कहा कि बेटियां किसी से कम नहीं हैं। हर क्षेत्र में आगे हैं। जिला प्रशासन द्वारा बालिका जन्म को प्रोत्साहित करने और बालिका लिंगानुपात बढ़ाने के लिये हरसंभव प्रयास किया जा रहा है। श्री कुमारिया ने उपस्थित समस्त बालक-बालिकाओं को उज्ज्वल भविष्य की शुभकामनाएं दी।


श्री उमेश सेंगर द्वारा कहा गया कि बेटियां परिवार को जोड़कर रखती हैं। उन्हें बोझ नहीं समझा जाना चाहिये। बालिकाओं की शिक्षा के लिये सभी को मिलकर प्रयास करने होंगे। जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री गौतम अधिकारी द्वारा कार्यक्रम में बालिकाओं के लिये स्वास्थ्य, शिक्षा और सुरक्षा की महत्ता बताई गई। उन्होंने कहा कि उज्जैन जिले में बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ कार्यक्रम विगत वर्ष से प्रारम्भ हुआ है।
शिक्षा विभाग के सहायक परियोजना समन्वयक श्री राजेन्द्र शुक्ला द्वारा बताया गया कि शिक्षा एवं महिला बाल विकास विभाग के सहयोग से बालिका शिक्षा में सुधार आ रहा है। हर परीक्षा में बेटियां बाजी मार रही हैं। ऐसा सिर्फ इसलिये है कि वे मन लगाकर हर काम करती हैं।
कार्यक्रम में निबंध प्रतियोगिता में प्रथम स्थान केन्द्रीय विद्यालय की कु.स्वातिका सिंह कक्षा 9वी, द्वितीय स्थान शाकउमावि दशहरा मैदान की कु.लक्ष्मी किशन कक्षा 7वी और तृतीय स्थान लोकमान्य तिलक विद्या विहार उमावि की कु.भारती अवस्थी कक्षा 9वी ने प्राप्त किया। निबंध प्रतियोगिता के निर्णायक श्रीमती अर्चना कुल्मी (व्याख्याता शाउउमावि माधव नगर), श्री नीरज सारवान (सहायक प्राध्यापक माधव कला एवं वाणिज्य महाविद्यालय) और सुश्री अरूणा सेठी (प्रो.विधि महाविद्यालय) थे।
चित्रकला प्रतियोगिता में प्रथम स्थान कु.आद्या द्विवेदी (स्टेनफोर्ड स्कूल कक्षा 9वी), द्वितीय स्थान कु.सुरभि जाटव (भारतीय ज्ञानपीठ उमावि कक्षा 8वी) और तृतीय पुरस्कार कु.मुस्कान मनवानी (सेंटमेरी कॉन्वेंट हासे स्कूल कक्षा 9वी) ने प्राप्त किया। इसके अलावा कु.रचना चांड (लोकमान्य तिलक विद्या विहार उमावि कक्षा 8वी), राजराव भोगे (एक्सीलेंस स्कूल कक्षा 11वी) व कु.आरषी राठौर (उज्जैन पब्लिक स्कूल कक्षा 11वी) ने सान्त्वना पुरस्कार प्राप्त किया। चित्रकला प्रतियोगिता के निर्णायक श्री बीएल सिंगोलिया व डॉ.रंजना वानखेड़े थे।


कविता लेखन में प्रथम पुरस्कार कु.मनस्वी मालवीय (भारतीय ज्ञानपीठ उमावि कक्षा 8वी), द्वितीय पुरस्कार कु.मनीषा गेहलोत (शाकउमावि दशहरा मैदान कक्षा 7वी) और तृतीय पुरस्कार श्री रोहित परिहार (शामावि ऋषि नगर कक्षा 8वी) ने प्राप्त किया। बालिका गृह की खुशबू जायसवाल कक्षा 7वी और शांभवी झा कक्षा 10वी ने कविता लेखन में सान्त्वना पुरस्कार प्राप्त किया। इस प्रतियोगिता हेतु श्रीमती शोभा मिश्रा, सुश्री रीना अधर्व्यू और सुश्री कल्पना सेठी निर्णायक थे।
सभी विजेताओं को कार्यक्रम में स्मृति चिन्ह और प्रमाण-पत्र प्रदान किये गये। कार्यक्रम में पार्षद श्रीमती हेमलता कुवाल द्वारा उपस्थित बालक-बालिकाओं को शपथ दिलवाई गई। इस दौरान परियोजना अधिकारी उज्जैन ग्रामीण श्री मनोज त्रिवेदी, परियोजना अधिकारी उज्जैन शहर-3 श्रीमती मीना निगम, क्रमांक-4 श्रीमती अर्चना दलाल, जिला बाल संरक्षण इकाई से संरक्षण अधिकारी श्रीमती अमृता सोनी, सामाजिक कार्यकर्ता श्री गौरव मित्तल, श्री संतोष पंवार, श्रीमती मृणाल भिलाला और समस्त पर्यवेक्षक उपस्थित थे।
बाल भवन से अनुदेशक डॉ.सिंधु पांडीवाल और संगीतकार डॉ.जयन्त कोरात्रे द्वारा बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ और स्वागतम लक्ष्मी गीत का गायन किया गया। कार्यक्रम का संचालन परिवीक्षा अधिकारी श्रीमती प्रियंका त्रिपाठी और आभार प्रदर्शन श्री साबिर अहमद सिद्धिकी द्वारा किया गया।