डकैती की योजना बनाते गिरफ्तार आरोपियों को पांच-पांच वर्ष का कठोर कारावास ।1000 रुपए अर्थदंड की सजा।


 न्यायालय श्रीमान अरविन्द रघुवंशी, अष्ठम अपर सत्र न्यायाधीश महोदय, उज्जैन के न्यायालय द्वारा आरोपी परसराम पिता सेतूराम पारदी, उम्र 26 वर्ष, निवासी ग्राम बीलाखेड़ी, थाना धरनावदा जिला गुना को धारा 399, 402 भादवि में 05-05 वर्ष के सश्रम कारावास एवं कुल 1,000/- रूपये के अर्थदण्ड से दण्डित किया गया।
 उप-संचालक (अभियोजन) डॉ साकेत व्यास ने अभियोजन घटना अनुसार बताया कि घटना इस प्रकार है कि थाना प्रभारी योगेन्द्रसिंह सिसौदिया को दिनांक 04.06.2015 को मुखबीर से सूचना मिली कि ग्राम सांवराखेडी के पास मनीष यादव के ईंट के भट्टे के पास सुनसान स्थान पर 5-6 अज्ञात व्यक्ति बैठे है जो डकैती की तैयारी कर रहे है, जिनके पास हथियार है। मुखबीर की सूचना पर तस्दीक हेतु हमराह फोर्स के साथ मुखबीर द्वारा बताये घटना स्थल पर पहुॅचे। जहां दबिश देने के लिए चार टीमें बनायी गई। सभी टीमों को योजना अनुसार दियेे गये इशारे पर कार्य आरम्भ करने की समझाईश देकर, टीम के साथ लेकर चारो ओर घेरा बनाते हुये पैदल-पैदल मुखबीर द्वारा बताये गये स्थान मनीष यादव के ईट भट्टे के पास सुनसान स्थान पर पहॅुचे। वहां देखा तो पांच व्यक्ति गोलघेरा बनाकर जमीन पर हथियार लिये हुऐ बैठकर डकैती की योजना बना रहे थे, उनकी बातों को सुना तो एक व्यक्ति कह रहा था, विक्की आज इसी गॉव के बाहर वाले मकान में धावा बोलना है, सुनने वाला बोला हां कोलासर कुछ नहीं मिला तो उसके पास के मकान में डकैती करना है, तब कोलासर नाम वाले व्यक्ति ने कहा कि विशाल तू, विक्की, परसराम तथा रामभुवन मकान में धावा बोलकर अंदर काम संम्हालना कोई जाग जाये तो हथियार चलाने से मत चूकना, में पिस्टल के साथ घर के बाहर निगरानी करूगा अगर कुछ होता है तो मैं भी अंदर घुस जाउंगा। पुलिस द्वारा घेराबंदी कर हमराह फोर्स की मदद से उन व्यक्तियों को पकड़ लिया। आरोपी कोलासर पिता सागमल से देशी पिस्टल, रामभुवन पिता सेतूराम से फरसा, परसराम पिता सेतूराम से भाला, विशाल पिता हजारीलाल से लोहे की टांमी, विक्की पिता जगन्नाथ से एक झोला जिसमें नकबजनी के औजार भरे थे विधिवत जप्त किये गये। आरोपीगण को गिरफ्तार किया गया। आरोपीगण के विरूद्ध धारा 399, 402 भादवि व 25, 27 आयुध अधिनियम की प्रथम सूचना रिपोर्ट लेखबद्ध कर आवश्यक अनुसंधान पश्चात् न्यायालय में अभियोग पत्र पेश किया गया। न्यायालय द्वारा अभियोजन के तर्कों से सहमत होकर आरोपीगण को दण्डित किया गया। 
दण्ड का प्रश्नः- आरोपी परसराम को वीडियों कॉन्फ्रेस के माध्यम से सुना गया। आरोपी ओर से दण्ड से विषय में उदारतापूर्ण दृष्टिकोण अपनाये जाने की इस आधार पर की है कि वह युवा है तथा उसकी पूर्व की कोई दोषसिद्धी का रिकॉर्ड नहीं है। अभियोजन अधिकारी द्वारा आरोपीगण को कठोर दण्ड से दण्डित किये जाने का निवेदन किया।


न्यायालय की टिप्पणीः- मामले के तथ्य एवं परिस्थितियों को देखते हुऐ निश्चय ही अभियुक्त पर व्यक्तियुक्त दण्ड अधिरोपित किया जाना आवश्यक है ताकि ऐसे गंभीर अपराध में संलिप्त होने वाले व्यक्तियों को हतोत्साहित किया जा सके। 
नोटः- आरोपीगण कोलासर, रामभुवन, विशाल एवं विक्की विचारण के दौरान फरार हो गये।
      प्रकरण में शासन की ओर से पैरवी श्री रूपसिंह राठौर, अपर लोक अभियोजक, एवं श्री मुकेश कुमार कुन्हारे, एडीपीओ जिला उज्जैन द्वारा की गई।       
      


Popular posts
फ्रैंकलिन टेम्पलटन मध्य प्रदेश में फ्रैंकलिन इंडिया बैलेंस्ड एडवांटेज फंड (FIBAF) कर रहे हैं लॉन्च • FIBAF का लक्ष्य फ्रैंकलिन टेम्पलटन के इन-हाउस प्रोप्रिटेरी डायनामिक अस्सेस्ट एल्लोकेशन मॉडल से प्राप्त, दोनों दुनिया के सर्वश्रेष्ठ को जोड़ना है • फ्रैंकलिन टेम्पलटन के लिए मध्य प्रदेश एक प्रमुख ग्रोथ मार्केट है, जिसका उद्योग एयूएम इंदौर, भोपाल, जबलपुर और ग्वालियर सहित अन्य जैसे शहरों में लगभग ५२,000 करोड़ रूपए का है
Image
मैंने इस शो से शिक्षा की अहमियत सीखी हैं‘‘ - आयुध भानुशालीं, भीमराव, एण्डटीवी के ‘एक महानायक डाॅ बी. आर. आम्बेडकर‘
Image
Clensta Covid 19 Protection Lotion – your long term shield against COVID 19 & the harmful effects of hand sanitisers
Image
भारत में पहली बार आयोजित की जा रही इंटरनेशनल एडवरटाइजिंग कॉन्फ्रेंस 2021
Image
मातृ दिवस‘ पर देखिये एण्डटीवी के आॅन-स्क्रीन माँ-बच्चों का खट्टा-मीठा रिश्ता
Image