<no title>

श्रम विभाग के टीम द्वारा बालश्रम मुक्ति हेतु अभियान चलाया।


उज्जैन 29 अगस्त। सहायक श्रमायुक्त श्रीमती मेघना भट्ट द्वारा जानकारी दी गई कि श्रम विभाग के दल द्वारा शहर के विभिन्न संवेदनशील क्षेत्रों जिनमें देवास रोड, ऋषि नगर, भरतपुरी प्रशासनिक क्षेत्र, महानन्दा नगर, नागझिरी, शिप्रा विहार कॉलोनी, अभिलाषा कॉलोनी, क्षेत्र के होटल, ढाबे तथा वाणिज्यिक संस्थान एवं देवास रोड के औद्योगिक क्षेत्र के संस्थानों व कारखानों में बाल श्रम मुक्ति हेतु सर्चिंग अभियान चलाया गया। दल द्वारा श्रमिक प्रतिबंधित की सूचना प्रदर्शित कराई गई। कार्यवाही में श्रम विभाग से श्री बीएल राठौर और श्री पुष्पेन्द्र मरावी दल में शामिल थे। दल द्वारा विभिन्न कारखानों, शोरूम, व्यावसायिक संस्थान, होटल इत्यादि स्थानों पर बाल श्रम अधिनियम-2016 के अन्तर्गत निरीक्षण किया गया एवं साथ ही कोविड-19 रोकथाम के अन्तर्गत शासन द्वारा जारी गाईड लाइन के पालन हेतु निर्देशित किया गया। उल्लेखनीय है कि बाल श्रम अधिनियम के प्रावधान के तहत कोई भी व्यक्ति जो 14 वर्ष से कम उम्र के बालक-बालिकाओं को काम पर नियोजित रखता है तो उसे कम से कम छह माह और अधिकतम दो साल की सजा हो सकती है। साथ ही 20 हजार रुपये से लेकर 50 हजार रुपये तक का जुर्माना भी लगाया जा सकता है।


Popular posts
भोपाल में 2 से 4 दिसंबर के बीच लगेगा विशाल कृषि मेला; नव तकनीक, जैविक उत्पादों और स्टार्टअप्स के लिए नए मौके • जैविक उत्पादकों के लिए बी2बी बी2सी मार्केट व्यवस्था • किसान सलाहकार बूथ और नई तकनीकों की प्रदर्शनी • किसान फार्मर व जैविक-प्राकृतिक कृषि पर विशेष जोर
Image
बॉलीवुड अभिनेता आयुष मेहरा ने एक रोमांचक प्रोजेक्ट की शूटिंग के दौरान दुबई शहर किया एक्स्प्लोर*
Image
एसबीआई जनरल इंश्योरेंस ने लॉन्चन किया #बहाने छोड़ो टैक्स बचाओ; स्वास्थ्य बीमा के साथ टैक्स बचाने पर एक अनोखा वॉक्स पॉप कैंपेन
Image
एथर एनर्जी ने बिहार में की रिटेल बिक्री की शुरुआत; पटना में अपने पहले एक्सपीरियंस सेंटर का उद्घाटन किया
Image
पैशन के पीछे भागने से बेहतर उसे जीवित रखना - एक्टर-
Image