अदाणी ग्रीन एनर्जी लिमिटेड ने गुजरात के खिरसरा में 100 मेगावाट के सौर ऊर्जा इकाई को निर्धारित समय से पहले शुरू किया



अदाणी ग्रीन एनर्जी की कुल ऑपरेशनल रिन्यूएबल क्षमता 2,950 मेगावाटतक पहुंची। एजीईएल 2025 तक 25 गीगावाट क्षमता प्राप्तिके अपने दृष्टिकोण के और करीब हुआ।


अहमदाबाद, 30 दिसम्बर 2020: अदाणी ग्रीन एनर्जी लिमिटेड (एजीईएल) की पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी, अदाणी सोलर एनर्जी कच्छ टू प्राइवेट लिमिटेड ने गुजरात ऊर्जा विकास निगम इंडिया (जीयूवीएनएल) के साथ अपने 25 वर्ष के पावर परचेज एग्रीमेंट(पीपीए) की निर्धारित कमर्शियल ऑपरेशन तिथि (सीओडी)सेपहले गुजरात के खिरसरा में 100 मेगावाट का सोलर एनर्जी प्रोजेक्ट शुरू किया। 


इस शुरुआत के साथ, एजीईएल की कुल ऑपरेशनल रिन्यूएबल क्षमता मार्च 2016 से 55% सीएजीआर प्रदर्शित करते हुए 2,950 मेगावाट हो गई है।

 

यह प्लांट हमारे स्टेट-ऑफ-द आर्ट एनर्जी नेटवर्क ऑपरेशन सेंटर (ईएनओसी) से जुड़ा होगा जो भारत में विभिन्न स्थानों पर 80 से अधिक सोलर और विंड प्लांट के प्रदर्शन की निरंतर निगरानी और विश्लेषण करता है।


एजीईएल की कुल रिन्यूएबल क्षमता 14,195 मेगावाटएसी है, जिसमें 11,245 मेगावाट अवार्डेड है  और कार्यान्वयन परियोजनाओं के अंतर्गत है; और एजीईएलने 2025 तक 25 गीगावाट की रिन्यूएबल क्षमता के क्रियान्वयन का लक्ष्य रखा है।


इस प्रगति के बारे में बताते हुए, अदाणी ग्रीन एनर्जी लिमिटेड के एमडी और सीईओ, विनीत एस. जैन ने कहा कि “अदाणी ग्रीन रिन्यूएबल एनर्जी क्षेत्र में विश्व की सर्वोत्तम प्रथाओं के अनुरूप तेजी से परियोजना क्रियान्वयन क्षमता के जरिये एक सस्टेनेबल भविष्य बनाने के लिए प्रतिबद्ध है। व्यापक पैमाने और तेज गति की अदाणी समूह की विरासत के अनुरूप, गुजरात के खिरसरा, कच्छ में 100 मेगावाट के सोलर एनर्जी प्रोजेक्ट की शुरुआत, 2025 तक 25 गीगावॉट रिन्यूएबल एनर्जी के हमारे दृष्टिकोण को हासिल करने की दिशा में एक और महत्वपूर्ण कदम है।”


अदाणी ग्रीन एनर्जी लिमिटेड के बारे में

अदाणी ग्रीन एनर्जी लिमिटेड (एजीईएल) भारत स्थित अदाणीग्रुप का एक हिस्सा है, जिसके पास निवेश-ग्रेड के समकक्षों की जरूरतों को पूरा करने वाले ऑपरेटिंग, निर्माणाधीन और अवार्डेड प्राजेक्ट के 14 गीगावाट से अधिक के बड़े वैश्विक रिन्यूएबल पोर्टफोलियो में से एक है। कंपनी यूटिलिटी-पैमाने पर ग्रिड से जुड़े सौर का विकास, निर्माण, स्वामित्व, संचालन और रखरखाव करती है। एजीईएल के प्रमुख ग्राहकों में नेशनल थर्मल और पवन कृषि परियोजनाओं पावर कॉरपोरेशन (एनटीपीसी) और सोलर एनर्जी कॉर्पोरेशन ऑफ़ इंडिया (एसईसीआई) और विभिन्न राज्य डिस्कॉम शामिल हैं। 2018 में सूचीबद्ध, एजीईएल आज 22.8 बिलियन अमेरिकी डॉलर की मार्केट कैप कंपनी है, जो भारत को इसके सीओपी21लक्ष्यों को पूरा करने में मदद करती है। इस वर्षअमेरिका स्थित थिंक टैंक, मेरकॉम कैपिटल, अदाणी समूह को #1वैश्विक सौर ऊर्जा उत्पादन परिसंपत्ति के स्वामी का दर्जा दिया है।

Popular posts
फ्रैंकलिन टेम्पलटन मध्य प्रदेश में फ्रैंकलिन इंडिया बैलेंस्ड एडवांटेज फंड (FIBAF) कर रहे हैं लॉन्च • FIBAF का लक्ष्य फ्रैंकलिन टेम्पलटन के इन-हाउस प्रोप्रिटेरी डायनामिक अस्सेस्ट एल्लोकेशन मॉडल से प्राप्त, दोनों दुनिया के सर्वश्रेष्ठ को जोड़ना है • फ्रैंकलिन टेम्पलटन के लिए मध्य प्रदेश एक प्रमुख ग्रोथ मार्केट है, जिसका उद्योग एयूएम इंदौर, भोपाल, जबलपुर और ग्वालियर सहित अन्य जैसे शहरों में लगभग ५२,000 करोड़ रूपए का है
Image
मैंने इस शो से शिक्षा की अहमियत सीखी हैं‘‘ - आयुध भानुशालीं, भीमराव, एण्डटीवी के ‘एक महानायक डाॅ बी. आर. आम्बेडकर‘
Image
Clensta Covid 19 Protection Lotion – your long term shield against COVID 19 & the harmful effects of hand sanitisers
Image
भारत में पहली बार आयोजित की जा रही इंटरनेशनल एडवरटाइजिंग कॉन्फ्रेंस 2021
Image
मातृ दिवस‘ पर देखिये एण्डटीवी के आॅन-स्क्रीन माँ-बच्चों का खट्टा-मीठा रिश्ता
Image