इंदौर स्थित उद्योगपति भारत में एक बड़ा धमाका कर रहे हैं और भारतीय अर्थव्यवस्था और आत्मनिर्भर भारत अभियान में योगदान दे रहे हैं


इंडस ऐप बाज़ार, एक भारतीय एंड्रॉइड ऐप स्टोर ने अपने १० करोड़ से अधिक उपयोगकर्ताओं के लिए १ अरब डाउनलोड को सक्षम किया है।

इंदौर:  इंडस ऐप बाज़ार भारत का सबसे बड़ा स्वदेशी और इस प्रकार का ऐप है, जिसमें १० करोड़ से अधिक उपयोगकर्ता सैमसंग और 12 अन्य भारतीय ओईएम की शक्ति रखते हैं। भारत का अपना ऐप स्टोर, कृत्रिम बुद्धिमत्ता और मशीन लर्निंग जैसी गहरी तकनीकों का लाभ उठाकर स्थानीयकरण, सादगी और उपयोगकर्ता के निजीकरण पर ध्यान केंद्रित करके एक बेहतर अनुभव प्रदान करता है, इंडस ऐप बाज़ार वास्तव में भारतीय दर्शकों के लिए डिज़ाइन किया गया है।यह भारत की 12 भाषाओं और अंग्रेजी में उपलब्ध है। ऐप स्टोर तक पहुंचने और ऐप डाउनलोड करने के लिए किसी ईमेल एड्रेस की आवश्यकता नहीं है।

बहुत से स्टार्ट-अप्स आत्मनिर्भर पाई से भारतीय अर्थव्यवस्था में योगदान देने के लिए प्रयत्न कर रहे हैं।टियर 2 और 3 शहरों के उद्यमी अभिनव समाधान बनाकर अपने भाग्य का प्रभार ले रहे हैं और इस इंडस ऐप बाजार जैसे उद्यमियों के लिए सही वितरण भागीदार है। श्री राकेश देशमुख ने अपने कोफ़ाउंडर्स के साथ  $25,000 तक मुफ्त एडब्ल्यूएस क्रेडिट का स्टार्टअप समर्थन देकर इस पारिस्थितिकी तंत्र को सक्षम किया है। मध्यप्रदेश में स्थित इंदौर से, राकेश जो की इंडस ओएस के माध्यम से भारत के हृदय स्थल तक पहुँचके एक स्थायी प्रभाव लाना चाहते हैं। आईआईटी मुंबई में उनकी यात्रा शुरू हुई और इंडस ओएस उनका तीसरा साहस है । 7 वर्षों की अवधि में, कंपनी ने भारतीय उपयोगकर्ताओं के लिए स्मार्टफोन के उपयोग को बढ़ाने और भारतीय ऐप डेवलपर्स के लिए विविध अवसरों को समृद्ध करने के लिए एक समग्र मंच प्रदान कर के भारत की डिजिटल अर्थव्यवस्था के उत्थान के लिए सफर तय किया है। कंपनी ने ओमिडयार नेटवर्क, वेंचरइस्ट, जेएसडब्ल्यू वेंचर्स, सैमसंग इन्वेस्टमेंट वेंचर्स और एफल से निवेश प्राप्त किया है।

वर्तमान में इंडस ऐप बाज़ार वैश्विक ओईएम/टेल्को पार्टनर्स के साथ साझेदारी से काम कर रहा है, जोउन्हें मदद करेंगे, अपने उपयोगकर्ता आधार को बढ़ाने और सैमसंग उपकरणों के भीतर अपने ऐप स्टोर मुद्रीकरण चैनलों का विस्तार करने के लिए गहन राजस्व एकीकरण और साझेदारी की अनुमति देने के लिए भी काम कर रहे हैं। किसी कर्मचारी की छंटनी या वेतन कटौती के बिना ही कंपनी कोविड-19 महामारी को उत्तमता से संभालने में सक्षम रहीं।वास्तव में, कंपनी ने अपनी टीमों को विकसित करने के लिए महामारी के दौरान भी कर्मचारीयों की भर्तियां की है।

१० करोड़ अंक हासिल करने पर, श्री राकेश देशमुख, इंडस ओएस के सह-संस्थापक और सीईओ ने कहा; “जबकि दुनिया भारतीयों को इंडस ऐप बाजार के साथ उपभोक्ताओं के रूप में देखती है, हम यह प्रदर्शित करने में सक्षम हैं कि भारत एक निर्माता बाजार भी है।विशेष रूप से भारत के लिए हमारे स्टोर पर 400,000 ऐप्स में से, विकसित और स्थानीयकृत हजारों समाधान हैं|जब पढ़ेगा भारत, तब बढ़ेगा भारत।”


हमारा विचार ऐप स्टोर उपयोगकर्ताओं के लिए एक पुरस्कृत अनुभव को पुन:स्थापित करना और बनाना है।हमारी दृष्टि 2023 तक टॉप ऐप और सामग्री खोज प्लेटफार्मों में से एक बनने की है। हम डेवलपर समुदाय के साथ न केवल वितरण के लिए बल्कि अपने उपयोगकर्ताओं के पुन: जुड़ाव के लिए और उनके उत्पादों को ठीक करने के लिए और अधिक गहन विश्लेषण प्रदान करना चाहते हैं। इस दृष्टि और दूरदर्शिता के साथ हमने इस व्यवसाय में कदम रखा और आज जैसे ही हम १० करोड़ के अंक को पार करते हैं, यह हमें ये महसूस और संतुष्टि देता है कि हम सही दिशा में काम कर रहे हैं और वांछित ग्राहक इंटरफ़ेस को प्राप्त करने में सक्षम हैं।”