सकरा वर्ल्ड हॉस्पिटल ने शुरू किया दुनिया का पहला एक्टिव रोबोटिक नी रिप्लेसमेंट सिस्टम



CUVIS जॉइंट, गंभीर गठिया के पेशेंट्स के लिए रोबोटिक टेक्नोलॉजी का उद्घाटन बीएस येदियुरप्पा, माननीय सीएम, कर्नाटक और डॉ. शिवराज कुमार द्वारा किया गया। 


बेंगलुरु, 13 दिसंबर, 2020: सकरा वर्ल्ड हॉस्पिटल, बेंगलुरु के प्रमुख हेल्थकेयर प्रोवाइडर्स में से एक और भारत का पहला एफडीआई हॉस्पिटल अब देश की हेल्थकेयर सफलताओं में से एक है, जो एडवांस्ड रोबोटिक नी रिप्लेसमेंट टेक्नोलॉजी पर आधारित है। इसे ऑर्थोपेडिक सर्जन्स को नी रिप्लेसमेंट के लिए प्लान करने से पहले सशक्त बनाने के लिए तैयार किया गया है, क्योंकि ऑपरेशन थियेटर में प्रवेश करने से पहले वे वास्तव में प्रोसीजर को कंडक्ट करते हैं। CUVIS जॉइंट दुनिया का पहला एक्टिव रोबोटिक नी रिप्लेसमेंट सिस्टम है, जो अब सकरा वर्ल्ड हॉस्पिटल में नी रिप्लेसमेंट सर्जरी को अधिक सटीक, पारदर्शी और परेशानी-मुक्त बना रहा है और गंभीर गठिया के पेशेंट्स को राहत प्रदान कर रहा है। साउथ कोरियाई फर्म 'क्यूरेक्सो' द्वारा निर्मित, और भारत में मेरिल हेल्थकेयर द्वारा बेचा जाने वाले, और अपनी अनूठी और स्वायत्त प्रकृति की कार्यप्रणाली के लिए पहचाना जाने वाले, CUVIS जॉइंट को कर्नाटक के माननीय मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा और डॉ. शिवराज कुमार, लोकप्रिय कन्नड़ फिल्म एक्टर द्वारा लॉन्च किया गया है। 


कर्नाटक के माननीय मुख्यमंत्री, बीएस येदियुरप्पा ने CUVIS जॉइंट के शुभारंभ पर अपनी प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा, "मुझे यह देखकर बेहद खुशी हुई क्योंकि यह नई एडवांस्ड रोबोटिक टेक्नोलॉजी भारत में पहली बार लाई गई है, जिससे गंभीर गठिया से पीड़ित लोगों के इलाज में मदद मिलेगी। मैं इस टेक्नोलॉजी के लिए सकरा वर्ल्ड हॉस्पिटल और डॉ. चंद्रशेखर पी को शुभकामनाएँ देता हूँ। मुझे यकीन है कि यह भारत और विदेशों के लोगों की मदद करेगा, विशेष रूप से महामारी और सामाजिक दूरी के दौरान। न्यूनतम मानवीय हस्तक्षेप इसे रोगियों और स्वास्थ्य सेवा प्रदाताओं दोनों को विजयी बनाएगा।"


डॉ. चंद्रशेखर पी, सकरा वर्ल्ड हॉस्पिटल के सीनियर कंसल्टेंट और ऑर्थोपेडिक्स डिपार्टमेंट के हेड हैं, जिन्हें 5,000 सफल नी रिप्लेसमेंट सर्जरी का अनुभव है। वे CUVIS के एक्टिव रोबोटिक सिस्टम के विकास के पीछे प्रमुख ग्लोबल ओपिनियन लीडर्स में से एक हैं। यह बताते हुए कि CUVIS जॉइंट रिप्लेसमेंट सर्जरी को ट्रांसफॉर्म कर सकता है, डॉ. चंद्रशेखर पी बताते हैं कि "इस रोबोटिक नी रिप्लेसमेंट टेक्नोलॉजी का उपयोग करते समय, हम सर्जरी से पहले सीटी स्कैन करते हैं। सीटी स्कैन से इमेजेज को रोबोट सॉफ्टवेयर में लोड किया जाता है। सर्जन सॉफ्टवेयर का उपयोग करता है और पेशेंट के घुटने के जॉइंट का 3 डी एनाटॉमी तैयार और सर्जिकल प्लान बनाता है, जो दर्शाता है कि इम्प्लांटेबल नी साइड-टू-साइड, फ्रंट-टू-फ़्रंट और ऑब्लिक डायरेक्शन में किस तरह दिखाई देंगे। सर्जरी शुरू होने से पहले भी प्लानिंग की जाती है। जब सर्जन ऑपरेशन थियेटर में प्रवेश करता है, तो सीटी लैंडमार्क्स पहले से ही इस सॉफ्टवेयर में लोड रहते हैं, जिससे सर्जरी को सुचारू रूप से संचालित किया जा सकता है। यह रोबोटिक सॉफ्टवेयर थ्री स्टेज प्लानिंग अलाउ करता है: प्री-ऑपरेटिव प्लान, प्रोसीजर और पोस्ट-ऑपरेटिव प्लान, जो यह दर्शाता है कि सर्जरी प्लान के अनुसार की गई है या नहीं, और एनाटॉमी का सही तरह से वर्णन और प्रदर्शन किया गया है या नहीं।"


डॉ. चंद्रशेखर के शब्दों को सुनकर, सकरा वर्ल्ड हॉस्पिटल के मैनेजिंग डायरेक्टर श्री ताकाशी माकी बताते हैं, "CUVIS जॉइंट की त्रुटिहीन सटीकता, सकरा वर्ल्ड हॉस्पिटल द्वारा प्रदान किए गए अप्रतिष्ठित समर्पण और दोषरहित देखभाल और सेवा के साथ-साथ चलती है। जापानी मूल्यों और अत्याधुनिक जापानी टेक्नोलॉजी से प्रेरित होकर, सकरा ने हमेशा वैश्विक और भारतीय स्वास्थ्य सेवा में टेक्नोलॉजिकल एडवांसमेन्ट्स का नेतृत्व किया है। CUVIS जॉइंट के साथ, हम ऑप्टिमम क्लीनिकल आउटकम और मैक्सिमम पेशेंट सेटिस्फेक्शन प्रदान करने की उम्मीद करते हैं।"