आर.के. लक्ष्मण के जन्म शताब्दी वर्ष पर वागले की दुनिया के बारे में बात करते हुए उषा लक्ष्मण ने कहा, ‘‘नई सीरीज, पुरानी वागले की दुनिया की तरह, परिवार को साथ लाने की संस्कृति लाएगी’’



टेलीविजन पर वागले की दुनिया की वापसी से मेरा परिवार और मैं बहुत रोमांचित हैं। यह साल उनकी जन्म शताब्दी का है और हम इस शो से उसका जश्न मना रहे हैं।


आर.के. लक्ष्मण एक्टिंग के फील्ड में हमेशा से कुछ करना चाहते थे। कार्टूनिस्ट का काम फिल्म बनाने जैसा ही होता है। संक्षिप्त में कहूं, तो वह एक फिल्ममेकर होता है, जो पटकथा, किरदार, माहौल, प्रॉप्स लाता है और उन्हें मिलाकर एक कहानी बनाता है। तो जब उन्हें वागले की दुनिया का मौका मिला, तो यह उनके लिये रूटिन वर्क से रिलेक्स होने का समय था और उन्होंने इसका बहुत मजा लिया।


2. मूल रूप से वागले की दुनिया कैसे संभव हुआ?

इसकी शुरूआत तब हुई, जब दुर्गा खोटे की बहू टीना खोटे ने आर.के. लक्ष्मण से मुलाकात की और कहा कि आपके कार्टून टेलीविजन पर आने चाहिये। इसे अलग तरीके से कैसे देखा जा सकता है। तो उन्होंने हामी भर दी, लेकिन कहा कि उनके कार्टून में आम आदमी बोलता नहीं है। वे आम आदमी की जिन्दगी के लिये अपने कॉन्सेप्ट और आइडियोलॉजी के आधार पर कुछ बनाना चाहते थे और हर स्थिति में ह्यूमर लाना चाहते थे। फिर उन्होंने एक किरदार बनाया, जो आम आदमी की जिन्दगी की हर स्थिति को वास्तव में प्रस्तुत कर सकता था।


3.क्या आपके हिसाब से आर.के. लक्ष्मण के कार्टून आज भी प्रासंगिक हैं?

उनका काम आज भी बहुत प्रासंगिक है। उन्होंने हर विषय को कवर किया है, राजनीति, विज्ञान, सामाजिक या कोई अन्य विषय। उन्होंने आम आदमी और उसके जीवन को छूआ है। आज भी, जब हम महामारी से जूझ रहे हैं, उनके कार्टून बहुत प्रासंगिक हैं। उनके कई कार्टून आमतौर पर वायरस से संबंधित हैं, जो आज की स्थिति से बहुत मेल खाते हैं और जो हमने पिछले साल देखा। इसलिये, उनके कार्टून अमर हैं।


4.वागले के किरदार और पूरे शो को जीवंत कैसे बनाया गया?

जब कॉन्सेप्ट के स्तर पर काम पूरा हो गया और टीम बन गई, जिसमें श्री रवि ओझा, अजय कार्तिक, टीना खोटे और कुंदन शाह थे, तब लक्ष्मण अपने दफ़तर से निकल जाते थे और उनके साथ शाम बिताते थे और एपिसोड बनाते थे। वे हिन्दी भाषा के साथ बहुत फैमिलियर नहीं थे, तो पूरा कॉन्सेप्ट इंग्लिश में पढ़ते थे और वहाँ के लोग उसका नोट बनाते और उसकी ऑडियो रिकॉर्डिंग करते थे। वे हर किरदार की एक्टिंग करके बताते थे, खासकर मिस्टर वागले और राधिका के किरदारों की। वे समझाते थे कि बारीकी से व्यंग्य कैसे लाना है और कॉमेडी को सच्चाई के स्तर पर कैसे लाना है, ठीक वैसे ही, जैसा हम हर दिन देखते हैं। वागले की दुनिया बनाने की पूरी यात्रा में इस बात का वे खास ध्यान रखते थे। अजय कार्तिक पटकथा लिखते थे और मिस्टर लक्ष्मण को बताते थे, फिर वे उसे अपना फ्लेवर देते थे। 


लक्ष्मण हमेशा कहते थे कि वे वागले की दुनिया में भी अपने काम की गरिमा, परिष्करण और संपूर्णता चाहते हैं। मुझे लगता है कि इसी कारण यह शो सफल हुआ- सूक्ष्मता और वास्तविकता का स्तर, जिसे वे कॉमेडी में लाए। उन्होंने कहा था कि कॉमेडी ऐसी चीज है, जो आप बना नहीं सकते। कॉमेडी सहज होती है। तो आप सहजता कैसे लाएंगे और उसे टीवी जैसे माध्यम पर कैसे ले जाएंगे, एक्टर्स को उनके किरदार में ढालकर। अगर एक्टर्स अपने दैनिक जीवन की स्थितियों का विश्लेषण करेंगे, तभी कॉमेडी कर सकेंगे।


5.आज की पीढ़ी को वागले की दुनिया- नई पीढ़ी, नये किस्से! क्यों देखना चाहिये?

जब वागले की दुनिया का प्रसारण शुरू हुआ था, तब लोग पूरे परिवार के साथ बैठते थे, सप्ताह में एक बार, रात 9 बजे। चिंताओं और संघर्षों से भरा दिन बिताने के बाद लोग अपने परिवार के साथ बैठकर थोड़ा हंसते थे।


आज की पीढ़ी की अपनी दुनिया है। उनके पास मनोरंजन के अपने साधन हैं, जिनके द्वारा वे कभी भी कुछ भी देख सकते हैं। मुझे यकीनन लगता है कि यह नई सीरीज परिवार को एक साथ लाने की वही संस्कृति लाएगी, जैसा पुरानी वागले की दुनिया ने किया था। यह मौजूदा पीढ़ी के लिये एक प्रेरणा बन सकती है, उन्हें परिवार, व्यंग्य, व्यंग्य की बारीकी, जीवन की अवधारणा और हर स्थिति में हास्य उत्पन्न करने के सच्चे मायने सिखा सकती है। इसका अनुभव करना युवा पीढ़ी के लिये एक खूबसूरत बात होगी।


6.कोई संदेश?

यह साल श्री आर.के. लक्ष्मण की जन्म शताब्दी का है और हमें खुशी है कि उनके सबसे चहेते क्रिएशंस में से एक ‘वागले की दुनिया’ की वापसी हो रही है। यह मेरे परिवार और मेरे, सोनी सब, हैट्स ऑफ प्रोडक्शंस और सभी कलाकारों की ओर से सर्वश्रेष्ठ श्रद्धांजलि है। उन्हें खुशी होगी और वे शुक्रगुजार होंगे कि यह हो रहा है।



देखिये ‘वागले की दुनिया- नई पीढ़ी, नये किस्से!’ सोमवार से शुक्रवार, रात 9 बजे, केवल सोनी सब पर

Popular posts
हम फिल्म को यथासंभव वास्तविक रखना चाहते थे": नवोदित निर्देशक सुदर्शन गामारे*
Image
अपना दल (एस) मध्य प्रदेश कार्यकारिणी का गठन, विभिन्न पदों पर सौंपी जिम्मेदारियां अनुभवी, युवा व महिला सदस्यों पर जोर स्वदेशी कू समेत सभी सोशल प्लेटफॉर्म्स पर सक्रियता डिजिटल टूल्स द्वारा नए सदस्यों को जोड़ने की कवायद
Image
न्यूज 24 (बीएजी नेटवर्क) ने पॉडकास्ट 24- आवाज सबकी किया लॉन्च
Image
भारत का सबसे बड़ा कार डीलरशिप नेटवर्क, ग्रुप लैंडमार्क अब पंजाब पहुंचा o ग्रुप लैंडमार्क ने राज्य में दो नए लैंडमार्क शोरूम लॉन्च करते हुए पंजाब में अपनी मौजूदगी बढ़ाई। o जीप मेरिडियन में 2.0-लीटर टर्बोचार्ज्ड डीजल इंजन लगा हुआ है। o इस इवेंट में लोकप्रिय गायक जस्सी गिल के साथ ग्रुप लैंडमार्क की एम.डी गरिमा मिश्रा और सी.एम.ओ रेणुका डुडेजा ने भागीदारी की। लुधियाना, 21 मई, 2022: भारत में सबसे बड़े कार डीलरशिप नेटवर्क का परिचालन करने वाले, ग्रुप लैंडमार्क, ने पंजाब में दो नए लैंडमार्क शोरूम लॉन्च करने की घोषणा की। इन दो नए जीप लैंडमार्क शोरूम में से पहला लुधियाना में, और दूसरा जालंधर में स्थित है। कंपनी ने नई जीप मेरिडियन एसयूवी के साथ नए बाजार में अपनी मौजूदगी दर्ज की है, जिसे हाल ही में 29.9 लाख रुपये से लेकर 36.95 लाख रुपये (एक्स-शोरूम) की प्रारंभिक मूल्य सीमा के साथ लॉन्च किया गया था। इस मेड-इन-इंडिया और मेड-फॉर-इंडिया थ्री-रो जीप एसयूवी को लुधियाना के लैंडमार्क जीप शोरूम में एक इवेंट में प्रदर्शित किया गया, जिसमें लोकप्रिय गायक जस्सी गिल तथा ग्रुप लैंडमार्क की एम.डी गरिमा मिश्रा और सी.एम.ओ रेणुका डुडेजा ने भाग लिया। पंजाब में दो नए लैंडमार्क शोरूम के लॉन्च के मौके पर, ग्रुप लैंडमार्क के चेयरमैन और संस्थापक, संजय ठक्कर ने कहा कि "1998 से, ग्रुप लैंडमार्क ने अपना ध्यान देश में कार खरीदारों को एक नया अनुभव प्रदान करने पर केंद्रित किया है, जिसकी वजह से कंपनी इंडस्ट्री की प्रमुख कंपनी के रूप में विकसित हुई है, और इस उपलब्धि को हासिल करने में देश भर में बेहतरीन कार डीलरशिप के विशाल नेटवर्क की महत्वपूर्ण भूमिका है। इस विकास यात्रा को जारी रखते हुए, पंजाब हमारे लिए साफ तौर पर एक पसंदीदा जगह थी, क्योंकि क्षेत्र के निवासियों की बढ़ती संपन्नता के कारण, यह राज्य क्षमताओं से भरा हुआ है। जीप मेरिडियन पहले से ही जोखिम उठाने की अपनी साहसिक विशेषज्ञता के लिए जाना जाता है और अब यह वाहन राज्य में ग्रुप लैंडमार्क की मौजूदगी की घोषणा करने के लिए एक आदर्श वाहन के रूप में मौजूद रहा।” पंजाब के ऑटोमोटिव बाजार में ग्रुप लैंडमार्क का प्रवेश ग्रुप लैंडमार्क के दो जीप डीलरशिप के लॉन्च के साथ शुरू हो गया है: एक जालंधर में और दूसरा लुधियाना में। जालंधर शोरूम, जीटी रोड पर स्थित है, जो कुल 12,000 वर्ग फुट के क्षेत्र में फैला हुआ है, और लुधियाना शोरूम कुल 8,000 वर्ग फुट के क्षेत्र में फैला हुआ है। जीप मेरिडियन अपने साथ उत्साह और विशेषज्ञता का एक अनूठा मिश्रण लेकर आया है, जिसमें एडवान्स्ड आर्किटेक्चर, शानदार डिजाइन, शक्तिशाली तकनीकी खूबियों और पूरे सेगमेंट में अग्रणी रूप से मौजूद कई विशेषताएं हैं। इसके अलावा, इसमें फ़्रीक्वेंसी सेलेक्टिव डैम्पिंग (एफएसडी) तकनीक के साथ पूरी तरह से स्वतंत्र फ्रंट एवं रियर सस्पेंशन सेटअप, सबसे अच्छा कूलिंग परफॉरमेंस आदि शामिल हैं। जीप मेरिडियन 2.0-लीटर टर्बोचार्ज्ड डीजल इंजन द्वारा परिचालित है जो 3,750 आरपीएम पर 125 किलोवाट (170 एचपी) जेनेरेट करता है और 1,750-2,500 आरपीएम के बीच 350 एनएम का अधिकतम टॉर्क उपलब्ध है। दोनों उपलब्ध ट्रिम्स, यानी लिमिटेड और लिमिटेड (O), 4x2 फ्रंट-व्हील ड्राइव और छह-स्पीड मैनुअल ट्रांसमिशन और नौ-स्पीड ऑटोमैटिक ट्रांसमिशन के विकल्प के साथ उपलब्ध हैं। लिमिटेड (O) ट्रिम में 4x4 ऑल-व्हील ड्राइव के साथ नौ-स्पीड ऑटोमैटिक ट्रांसमिशन भी उपलब्ध है। ग्रुप लैंडमार्क के बारे में ग्रुप लैंडमार्क भारत में सबसे बड़े प्रीमियम और लक्जरी ऑटोमोटिव रिटेल व्यवसायों में से एक है, जिसमें मर्सिडीज-बेंज, वोक्सवैगन, होंडा, जीप, रेनॉल्ट और बीवाईडी जैसे शीर्ष स्तरीय ब्रांड की डीलरशिप उपलब्ध है। ग्राहकों को शुरू से अंत तक अद्वितीय खरीदारी अनुभव प्रदान करने के लिए, कंपनी सामान्य ऑटोमोटिव डीलरशिप के दायरे से आगे है, क्योंकि ऑटोमोटिव रिटेल वैल्यू चेन में ग्रुप लैंडमार्क की मजबूत उपस्थिति है। इसके अलावा, इसमें नए वाहनों की बिक्री के अलावा कई सारी सेवाएं शामिल हैं, जैसे पूर्व-स्वामित्व वाले यात्री वाहनों की आफ्टर-सेल्स सर्विस और थर्ड पार्टी फाइनेंशियल और इंश्योरेंस प्रोडक्ट्स। ग्रुप लैंडमार्क ने 1998 में अपनी पहली डीलरशिप शुरू की, और तब से, आठ राज्यों में 115 आउटलेट्स को शामिल करके अपने नेटवर्क का विस्तार किया है। ग्रुप लैंडमार्क के बारे में अधिक जानकारी के लिए देखें: www.grouplandmark.in
Image
हेल्थकेयर स्टार्टअप 'फर्स्टक्योर' उचित देखभाल के साथ सर्जरी को बना रहा है आसान
Image