कॉमेडी मेरे लिए एक नया क्षेत्र है” : मनोज बाजपेयी



ज़ी सिनेमा पर 28 फरवरी को रात 8 बजे होने जा रहे ‘सूरज पे मंगल भारी’ के वर्ल्ड टेलीविजन प्रीमियर के मद्देनजर मनोज बाजपेयी ने एक खास चर्चा की। यह कहानी उस वक्त शुरू होती है, जब सूरज अपने लिए दुल्हन ढूंढने निकलता है, लेकिन बड़े रहस्यमय तरीके से हर बार होने वाली दुल्हन के परिवार उसे ठुकरा कर देते हैं। जब उसे पता चलता है कि डिटेक्टिव मधु मंगल राणे की वजह से उसकी जिंदगी में हलचल मची हुई है, तो वो उसके खिलाफ योजना बनाने लगता है। यहीं से कुछ ऐसे पागलपन भरे घटनाक्रम शुरू होते हैं, जहां दोनों एक दूसरे की चालों को नाकाम करते हैं। सूरज और मंगल की इस गुदगुदाने वाली नोकझोंक को मनोज बाजपेयी और दिलजीत दोसांझ ने बखूबी प्रस्तुत किया है।


- आपने अलग-अलग जॉनर्स में बहुत-से रोल किए हैं। क्या दूसरे जॉनर्स की तुलना में कॉमेडी के जरिए दर्शकों से जुड़ना ज्यादा आसान है या मुश्किल?

 

मुझे हमेशा नए तरह के रोल्स की तलाश रही है और मधु मंगल राणे मेरे लिए बिल्कुल नया स्पेस था। मैंने कहानी को हमेशा सबसे ऊपर रखा है‌, लेकिन हर रोल की अपनी खूबियां और चुनौतियां होती हैं। हालांकि कॉमेडी मेरे लिए एक नया क्षेत्र है, लेकिन इस जॉनर को एक्सप्लोर करने में बहुत मजा आया। यदि आप मुझसे पूछेंगे कि ज्यादा मुश्किल क्या है, तो मैं कहूंगा किरदार में ढलना सबसे मुश्किल है। अंत में, दर्शकों से एक कनेक्शन बनाना बड़ा पेचीदा काम है, जिसमें आपको हर बात पर ध्यान देना होता है, चाहे वो कोई भी जॉनर हो। 


- इस फिल्म में आपका किरदार मधु मंगल राणे वेश बदलने में उस्ताद है। ऐसे में एक लुक से दूसरे लुक में आने का अनुभव कैसा रहा?

 

एक ही फिल्म में इतने सारे किरदार निभाना मेरे लिए एक बड़ा मौका था। इसमें सिर्फ मेरा हुलिया नहीं बदलता, बल्कि मुझे हर गेट-अप को विश्वसनीय तरीके से अपनाना होता था। जब आप इस तरह के रोल्स कर रहे हों, तो आपको बहुत सब्र की जरूरत होती है। ऐसे लुक में आने में घंटों लग जाते हैं। हालांकि ऑनस्क्रीन हुलिया बदलने में कॉस्टयूम और मेकअप महत्वपूर्ण होते हैं, लेकिन अंदर से तैयारी ही असली होती है। चाहे वो नववारी साड़ी पहनी महाराष्ट्रीयन औरत का किरदार हो या फिर जेम्स बॉन्ड स्टाइल जासूस का, जो बंदूक की जगह कैमरे का इस्तेमाल करता है, हर किरदार की अपनी एक दिलचस्प आदत है!


- दिलजीत और फातिमा के साथ काम करने का अनुभव कैसा रहा? 


दिलजीत और फातिमा के साथ काम करके बहुत मजा आया। फातिमा बड़ी विनम्र और मेहनती लड़की है। अपने किरदार के प्रति उनके समर्पण से मैं बहुत प्रभावित था। दिलजीत का भी स्थिति को समझने का अपना तरीका है। वो अपने दृश्यों में खुद की खूबियां जोड़ देते हैं। दोनों ही बहुत टैलेंटेड हैं और उनके साथ काम करना बड़ा मजेदार अनुभव था। सेट पर एक सकारात्मक माहौल था। इससे मुझे अपने काम में बहुत मजा आया और मुझे उसी उत्साह के साथ हर दिन काम पर लौटने का इंतजार रहता था। 


- यह फिल्म 90 के दशक की मुंबई पर आधारित है। 90 के दशक की कौन-सी बातें आपको अच्छे से याद हैं? 


90 का दशक बड़ा सादगी भरा दौर था। 90 के दशक के लोग पेन से ऑडियो कैसेट को घुमाने का संघर्ष खूब समझते हैं। उस समय की बहुत-सी यादें हैं जैसे पेजर, साधारण कार्ड गेम्स, लैंडलाइंस और बहुत कुछ। ‘सूरज पे मंगल भारी’ में मुझे उन पलों को दोबारा जीने का मौका मिला। मुझे यकीन है कि दर्शकों को भी उस दौर का अनुभव करते हुए बहुत अच्छा लगेगा।


- आप नए कलाकारों को क्या सलाह देना चाहेंगे, जो आपको अपना आदर्श मानते हैं? 


यह कि कभी हार ना मानें। यदि सफलता मिलती है, तो बहुत अच्छा और यदि नहीं मिलती है तो आपको अनुभव तो मिल ही गया! एक्टिंग में आपको हर तरह की चुनौती के लिए तैयार रहना जरूरी है। यदि आप में अपनी कला के प्रति लगन है और आप कड़ी मेहनत करने को तैयार हैं, तो सफलता आपका दरवाजा जरूर खटखटाएगी। दूसरी बात है, गौर करें और ज्यादा से ज्यादा गौर करें! आप जितने ध्यान से गौर करेंगे, उतना सीखेंगे। मैं सभी उभरते कलाकारों को भविष्य में सफलता की शुभकामनाएं देता हूं।

Popular posts
हम फिल्म को यथासंभव वास्तविक रखना चाहते थे": नवोदित निर्देशक सुदर्शन गामारे*
Image
अपना दल (एस) मध्य प्रदेश कार्यकारिणी का गठन, विभिन्न पदों पर सौंपी जिम्मेदारियां अनुभवी, युवा व महिला सदस्यों पर जोर स्वदेशी कू समेत सभी सोशल प्लेटफॉर्म्स पर सक्रियता डिजिटल टूल्स द्वारा नए सदस्यों को जोड़ने की कवायद
Image
न्यूज 24 (बीएजी नेटवर्क) ने पॉडकास्ट 24- आवाज सबकी किया लॉन्च
Image
भारत का सबसे बड़ा कार डीलरशिप नेटवर्क, ग्रुप लैंडमार्क अब पंजाब पहुंचा o ग्रुप लैंडमार्क ने राज्य में दो नए लैंडमार्क शोरूम लॉन्च करते हुए पंजाब में अपनी मौजूदगी बढ़ाई। o जीप मेरिडियन में 2.0-लीटर टर्बोचार्ज्ड डीजल इंजन लगा हुआ है। o इस इवेंट में लोकप्रिय गायक जस्सी गिल के साथ ग्रुप लैंडमार्क की एम.डी गरिमा मिश्रा और सी.एम.ओ रेणुका डुडेजा ने भागीदारी की। लुधियाना, 21 मई, 2022: भारत में सबसे बड़े कार डीलरशिप नेटवर्क का परिचालन करने वाले, ग्रुप लैंडमार्क, ने पंजाब में दो नए लैंडमार्क शोरूम लॉन्च करने की घोषणा की। इन दो नए जीप लैंडमार्क शोरूम में से पहला लुधियाना में, और दूसरा जालंधर में स्थित है। कंपनी ने नई जीप मेरिडियन एसयूवी के साथ नए बाजार में अपनी मौजूदगी दर्ज की है, जिसे हाल ही में 29.9 लाख रुपये से लेकर 36.95 लाख रुपये (एक्स-शोरूम) की प्रारंभिक मूल्य सीमा के साथ लॉन्च किया गया था। इस मेड-इन-इंडिया और मेड-फॉर-इंडिया थ्री-रो जीप एसयूवी को लुधियाना के लैंडमार्क जीप शोरूम में एक इवेंट में प्रदर्शित किया गया, जिसमें लोकप्रिय गायक जस्सी गिल तथा ग्रुप लैंडमार्क की एम.डी गरिमा मिश्रा और सी.एम.ओ रेणुका डुडेजा ने भाग लिया। पंजाब में दो नए लैंडमार्क शोरूम के लॉन्च के मौके पर, ग्रुप लैंडमार्क के चेयरमैन और संस्थापक, संजय ठक्कर ने कहा कि "1998 से, ग्रुप लैंडमार्क ने अपना ध्यान देश में कार खरीदारों को एक नया अनुभव प्रदान करने पर केंद्रित किया है, जिसकी वजह से कंपनी इंडस्ट्री की प्रमुख कंपनी के रूप में विकसित हुई है, और इस उपलब्धि को हासिल करने में देश भर में बेहतरीन कार डीलरशिप के विशाल नेटवर्क की महत्वपूर्ण भूमिका है। इस विकास यात्रा को जारी रखते हुए, पंजाब हमारे लिए साफ तौर पर एक पसंदीदा जगह थी, क्योंकि क्षेत्र के निवासियों की बढ़ती संपन्नता के कारण, यह राज्य क्षमताओं से भरा हुआ है। जीप मेरिडियन पहले से ही जोखिम उठाने की अपनी साहसिक विशेषज्ञता के लिए जाना जाता है और अब यह वाहन राज्य में ग्रुप लैंडमार्क की मौजूदगी की घोषणा करने के लिए एक आदर्श वाहन के रूप में मौजूद रहा।” पंजाब के ऑटोमोटिव बाजार में ग्रुप लैंडमार्क का प्रवेश ग्रुप लैंडमार्क के दो जीप डीलरशिप के लॉन्च के साथ शुरू हो गया है: एक जालंधर में और दूसरा लुधियाना में। जालंधर शोरूम, जीटी रोड पर स्थित है, जो कुल 12,000 वर्ग फुट के क्षेत्र में फैला हुआ है, और लुधियाना शोरूम कुल 8,000 वर्ग फुट के क्षेत्र में फैला हुआ है। जीप मेरिडियन अपने साथ उत्साह और विशेषज्ञता का एक अनूठा मिश्रण लेकर आया है, जिसमें एडवान्स्ड आर्किटेक्चर, शानदार डिजाइन, शक्तिशाली तकनीकी खूबियों और पूरे सेगमेंट में अग्रणी रूप से मौजूद कई विशेषताएं हैं। इसके अलावा, इसमें फ़्रीक्वेंसी सेलेक्टिव डैम्पिंग (एफएसडी) तकनीक के साथ पूरी तरह से स्वतंत्र फ्रंट एवं रियर सस्पेंशन सेटअप, सबसे अच्छा कूलिंग परफॉरमेंस आदि शामिल हैं। जीप मेरिडियन 2.0-लीटर टर्बोचार्ज्ड डीजल इंजन द्वारा परिचालित है जो 3,750 आरपीएम पर 125 किलोवाट (170 एचपी) जेनेरेट करता है और 1,750-2,500 आरपीएम के बीच 350 एनएम का अधिकतम टॉर्क उपलब्ध है। दोनों उपलब्ध ट्रिम्स, यानी लिमिटेड और लिमिटेड (O), 4x2 फ्रंट-व्हील ड्राइव और छह-स्पीड मैनुअल ट्रांसमिशन और नौ-स्पीड ऑटोमैटिक ट्रांसमिशन के विकल्प के साथ उपलब्ध हैं। लिमिटेड (O) ट्रिम में 4x4 ऑल-व्हील ड्राइव के साथ नौ-स्पीड ऑटोमैटिक ट्रांसमिशन भी उपलब्ध है। ग्रुप लैंडमार्क के बारे में ग्रुप लैंडमार्क भारत में सबसे बड़े प्रीमियम और लक्जरी ऑटोमोटिव रिटेल व्यवसायों में से एक है, जिसमें मर्सिडीज-बेंज, वोक्सवैगन, होंडा, जीप, रेनॉल्ट और बीवाईडी जैसे शीर्ष स्तरीय ब्रांड की डीलरशिप उपलब्ध है। ग्राहकों को शुरू से अंत तक अद्वितीय खरीदारी अनुभव प्रदान करने के लिए, कंपनी सामान्य ऑटोमोटिव डीलरशिप के दायरे से आगे है, क्योंकि ऑटोमोटिव रिटेल वैल्यू चेन में ग्रुप लैंडमार्क की मजबूत उपस्थिति है। इसके अलावा, इसमें नए वाहनों की बिक्री के अलावा कई सारी सेवाएं शामिल हैं, जैसे पूर्व-स्वामित्व वाले यात्री वाहनों की आफ्टर-सेल्स सर्विस और थर्ड पार्टी फाइनेंशियल और इंश्योरेंस प्रोडक्ट्स। ग्रुप लैंडमार्क ने 1998 में अपनी पहली डीलरशिप शुरू की, और तब से, आठ राज्यों में 115 आउटलेट्स को शामिल करके अपने नेटवर्क का विस्तार किया है। ग्रुप लैंडमार्क के बारे में अधिक जानकारी के लिए देखें: www.grouplandmark.in
Image
हेल्थकेयर स्टार्टअप 'फर्स्टक्योर' उचित देखभाल के साथ सर्जरी को बना रहा है आसान
Image