देशभर के जैविक किसानों एवं कृषि वैज्ञानिकों कीउपस्थिति में हुआ आर्गेनिक एक्सपो 2021 का शानदार आगाज- फैमिली फार्मर व फैमिली काऊयोजना का शुभारम्भ


- 120 से अधिक आर्गेनिक स्टाल्स- विशेषज्ञों द्वारा दी गई जैविककृषि की तकनीकी जानकारियां इंदौर,17 मार्च 2021: #मिशनहेल्दीइंडिया के तहत देश के सबसे बड़े ऑर्गनिकमेले का आगाज आज इंदौर के कृषि महाविद्यालय में हो गया है। 21 मार्च तक चलने वाले इसपांच दिवसीय जैविक कृषि ज्ञान सम्मेलन- आर्गेनिक एक्सपो 2021 का शुभारम्भ श्री कमलसिंह अंजना, अध्यक्ष, भारतीय किसान संघ, मालवा प्रान्त, श्री साईं प्रसाद, निदेशक,भारतीय गेंहू कृषि अनुसंधान केंद्र, मप्र छत्तीसगढ़ , आलोक मीणा, संयुक्त संचालक, कृषि,डॉ अशोक शर्मा, डीन, कृषि महाविद्यालय, श्री लक्ष्मी नारायण पटेल, कोषाध्यक्ष, भारतीयकिसान संघ एवं महिला सशक्तिकरण की मिसाल सुभद्रा खापर्डे जी, ऑर्गनिक एक्सपो संचालकमनोज मिश्रा व अन्य की उपस्थिति में द्वीप प्रज्वलित कर किया गया।   इस दौरान मुख्य अथिति सुभद्रा खापर्डेने जंगल अधिकार, भू-अधिकार, प्राकृतिक संसाधनों का संरक्षण-संवर्धन, महिला स्वास्थ्य,शिक्षा, नवीनीकरणीय ऊर्जा एवं देसी प्राकृतिक खेती पर तेजी से काम जारी रखने के साथजैविक को अपनाने के विशेष कारणों पर भी ध्यान आकर्षित किया। जबकि मुख्य आयोजनकर्ताश्री मनोज मिश्रा ने फैमिली फार्मर व फैमिली काऊ योजनाओं की घोषणा करते हुए, सभी सेजैविक बनने का आग्रह किया। वहीँ व्यापारी व ट्रेनर आकाश चौरसिया ने आर्गेनिक मल्टीलेयर फार्मिंग पर उद्द्बोधन देकर महत्वपूर्ण जानकारियां साझा की।  इस प्रदर्शनी में जैविक कम्पनियोंके स्टाल तथा जैविक कृषि कर रहे किसानों के उत्पादों की प्रदर्शनी और विक्रय किया जारहा है। जैविक कृषि ज्ञान सम्मलेन का मुख्य उद्देश्य जैविक खेती के साथ आर्गेनिक उत्पादोंके अधिक प्रोडक्शन को बढ़ावा देने के लिए किसानों को प्रोत्साहित करना है। यहाँ आपकोघी, तेल नमक मसाले, पूजा पाठ सामग्री से लेकर फल व सब्जियों तक, सब कुछ जैविक खेतीसे तैयार किया हुआ ही मिलेगा। इस सम्पूर्ण कार्यक्रम में ज्ञान सम्मेलनविशेष रूप से महत्वपूर्ण है जिसके अंतर्गत जैविक क्षेत्र की महान विभूतियां जैसे सुश्रीशर्मिला जैन, श्री रमेश भाई रूपरेलिया, श्री गोपाल भाई सुतरिया व अन्य द्वारा प्रत्यक्षरूप से उनके अनुभवों को साझा किया जाएगा।गौरतलब है कि एक्सपो के आगामी दिनोंमें गौ आधारित जैविक खेती का सजीव प्रदर्शन भी देखने को मिलेगा। जहां उन्नत किस्म केपशुओं की प्रदर्शनी, गोबर, गौमूत्र व फसल अवशेष के माध्यम से निर्मित विभिन्न प्रकारकी जैविक खादों की प्रदर्शनी तथा जैविक सूक्ष्म पोषक तत्वों के निर्माण की विधि कासजीव प्रदर्शन भी होगा। इसके अतिरिक्त मेले में पहुंचने वालों के लिए जैविक सब्जी मंडीएवं फ़ूड ज़ोन भी मुख्य आकर्षण का केंद्र बने हुए हैं।