पर्पल डॉट कॉम ने वर्लिनवेस्ट, सिकोया कैपिटल इंडिया, ब्लम वेंचर्स एंड जेएसडब्ल्यू से 45 मिलियन डॉलर का सौदा किया; आइवी कैप 22 गुना लाभ के साथ आंशिक रूप से बाहर हुआ


 

•       मौजूदा निवेशकों ने अपने संकल्प को मजबूती प्रदान की; सिकोया कैपिटल इंडिया कैप टेबल में शामिल

•       पर्पल ने उत्तर भारत के बाजार में 2019 की चौथी तिमाही के मुकाबले 2020 की चौथी तिमाही में 110% से अधिक की वृद्धि दर्ज की 

 

 

25 मार्च, 2021: भारत के सबसे बड़े ऑनलाइन ब्यूटी डेस्टिनेशंस में से एक, पर्पल डॉट कॉम ने वर्लिनवेस्ट, सिकोया कैपिटल इंडिया, ब्लम वेंचर्स, और जेएसडब्ल्यू वेंचर्स से 45 मिलियन डॉलर का सौदा किया। इस सौदे में, जहां तीन मौजूदा निवेशकों ने अपनी प्रतिबद्धता को मजबूती प्रदान की, वहीं पर्पल ने सिकोया कैपिटल इंडिया का स्वागत किया। यह निवेश अगले 4-5 वर्षों में 8-10 गुना की वृद्धि करने की ब्रांड की महत्वाकांक्षा को और बढ़ायेगा।

 

इस सौदे पर, पर्पल डॉट कॉम के सह-संस्थापक और सी.ई.ओ, मनीष तनेजा ने बताया कि “हम सिकोया कैपिटल इंडिया के साथ साझेदारी करने के लिए उत्साहित हैं, क्योंकि वे ऑनलाइन ब्यूटी इंडस्ट्री में कदम रख रहे हैं। वर्लिनवेस्ट, जेएसडब्ल्यू वेंचर्स और ब्लम वेंचर्स द्वारा रिइन्वेस्टमेंट करना, हमारे निवेशकों के दृढ़ विश्वास का प्रमाण है। पर्पल ने मजबूत प्रगति दर्शाया है। कोविड से प्रभावित वर्ष के दौरान भी, हमने पिछले 3 वर्षों के लिए> 90% जीएमवी सीएजीआर दर्ज किया है। हमारे निजी ब्रांडों ने सफलतापूर्वक वृद्धि हासिल की है; गुड वाइब्स पहले से ही 150 करोड़ रुपये का ब्रांड है। यह निवेश पर्पल को मल्टी-बिलियन डॉलर, डिजिटल-फर्स्ट, ब्यूटी एवं पर्सनल केयर एंटरप्राइज बनाने में मदद करेगा।”

 

सिकोया कैपिटल इंडिया ने इनोवेटिव स्टार्ट-अप्स में शुरुआती निवेशों के साथ अन्य कंपनियों से पहले सफलतापूर्वक बाजार की आवश्यकताओं की पूर्ति की है और बायजु’स, ओयो, ओला, जोमैटो और फ्रेशवर्क्स जैसे भारतीय यूनिकॉर्न के साथ भागीदारी की है।

 

सिकोया इंडिया की प्रिंसिपल, साक्षी चोपड़ा ने कहा कि “हम भारत में ई-कॉमर्स के जेंट्रीफिकेशन के प्रति  बढ़ते रुझान को देख रहे हैं। उपभोक्ता डिस्ट्रिब्यूशन प्लेटफार्म और ब्रांड के बीच एक स्पष्ट अंतर देख रहे हैं जो उनके लिए अधिक महत्वपूर्ण हैं। हम पर्पल के साथ साझेदारी करने के लिए उत्साहित हैं क्योंकि हम मानते हैं कि उन्होंने वैल्यू रिटेलिंग के ब्यूटी प्लेबुक को 3 प्रमुख सिद्धांतों के साथ प्रस्तुत किया है और वे सिद्धांत हैं - हाई रिटेंशन और कम ग्राहक अधिग्रहण लागत (सीएसी) आधारित व्यवसाय, सर्वोत्तम मूल्य पर गुणवत्ता प्रदान करने वाले ब्रांड्स का विस्तृत असॉर्टमेंट, और एक आकर्षक निजी लेबल पोर्टफोलियो मिक्स। हम पर्पल को प्रमुख ब्यूटी डेस्टिनेशन के रूप में उभरते हुए देख रहे हैं।     

 

पर्पल के लिए, यह वर्ष हर घर तक ब्यूटी की पहुंच बनाने के लिए ब्रांड की प्रतिबद्धता के साथ अच्छी  प्रगति वाला वर्ष रहा। पर्पल ने #गोपर्पल कैंपेन शुरू करते हुए, सारा अली खान को पहला ब्रांड एंबेसडर बनाया। ब्रांड ने पिछले साल के मुकाबले कुल वॉल्यूम, ट्रांजैक्शन वैल्यू में वृद्धि दर्ज की है और ब्रांड के यूजर्स बढ़े हैं।

 

पर्पल की विस्तारित सीरीज़ ‘सी राउंड’ की फंडिंग के एक साल बाद, निवेश के बारे में वर्लिनवेस्ट के एक्जिक्यूटिव डायरेक्टर, अर्जुन आनंद ने कहाकि "कोविड के बावजूद, पर्पल ने उल्लेखनीय प्रगति की है। हम किफायती एवं सुलभ प्रॉडक्ट्स प्रदान करते हुए, भारत के खास शहरों में सौंदर्य के लोकतंत्रीकरण के अपने मिशन में विश्वास करते थे। इस साल किया गया हमारा निवेश पर्पल को ब्यूटी ई-कॉमर्स सेगमेंट में मार्केट लीडर के रूप में अपनी स्थिति मजबूत करने में सक्षम बनायेगा।"

 

सीरीज़ ए निवेशक होने के कारण, पर्पल के विस्तार में आईवी कैप ने महत्वपूर्ण भूमिका निभायी। आइवी कैप वेंचर्स की 22गुना प्रगति पर, विक्रम गुप्ता, संस्थापक और मैनेजिंग पार्टनर्स, आईवी कैप वेंचर्स ने कहा कि "हमने अपने फंड 1 और फंड 2 से पर्पल डॉट कॉम में निवेश किया है। जब हमने पहली बार 2015 में पर्पल में निवेश किया था, तब हमें विश्वास था कि डिजिटल भारत में ब्यूटी इंडस्ट्री में बदलाव लायेगा और इसे पुनर्परिभाषित करेगा। हमारे फंड 1 से 15 करोड़ रुपये का किया गया शुरुआती निवेश अब कई गुना बढ़कर 330 करोड़ रुपये हो गया है, और हमारी साझेदारी फलदायक रही है। हमें कंपनी की प्रगति में भरोसा है और इसलिए हमने फंड 2 के लिए अपनी हिस्सेदारी बनाये रखी है। ब्रांड के प्रति हमारी आस्था और इसके संस्थापकों की 'ब्यूटी फॉर ऑल' की सोच ने हमें पर्पल से अपने पूरे फंड 1 का 1.35गुना हासिल करने में सक्षम बनाया।