भारत का पहला कस्टमाइज़्ड आयुर्वेदिक लाइफस्टाइल और वेलनेस ब्रांड, वैदिक्स, प्रमुख रीजनल बाजारों तक पहुँच बढ़ाने के लिए तैयार है



वैदिक्स ने टियर II और III शहरों में अपनी पहुँच बढ़ाने के लिए मार्केटिंग पहल शुरू की

टारगेट मार्केट से जुड़ने के लिए क्षेत्र के सभी प्रभावशाली लोगों के साथ मिलकर कार्य करना

रिज़नल मार्केट से जूड़ने के लिए सोशल मीडिया पर कैंपेन शुरू करना

भारत का पहला कस्टमाइज़्ड मॉडर्न आयुर्वेदिक लाइफस्टाइल और वेलनेस ब्रांड, वैदिक्स, इंडिया के सभी प्रमुख रीजनल बाजारों में अपनी स्थिति मजबूत करने के लिए सक्रिय रूप से कार्य कर रहा है। ब्रांड अपनी दोहरी मार्केटिंग स्ट्रैटिजी के द्वारा रीजनल और अंतर्राष्ट्रीय दोनों बाजारों में एक साथ पकड़ मजबूत करने की तैयारी में है।


हैदराबाद स्थित एक कस्टमाइज्ड आयुर्वेद ब्यूटी टेक स्टार्टअप, वैदिक्स, हाइपर कस्टमाइज्ड हेयर और स्किन केयर रिजीम डिजाइन कर रहा है, ताकि एआई (AL) और आयुर्वेद दोनों की विशेषताओं का हमारी स्किन और हेयर की समस्याओं में भरपूर फायदा मिल सकें। टेक ब्यूटी ब्रांड हैदराबाद के सबसे बड़े कंज्यूमर टेक स्टार्टअप्स में से एक होने के साथ-साथ 3 वर्षों के भीतर ही अपनी कैटेगरी में अग्रणी हो गया है।


वैदिक्स के बिजनेस हेड जतिन गुजराती ने कहा, “हम एक ऐसे ब्रांड के रूप में बढ़ना चाहते हैं जहां आयुर्वेद को आधारशीला बनाकर हम साइंटिफ़िक और ब्यूटी के सभी क्षेत्रों में कुछ नया करें, और लोगों तक एक बेहतरीन केयर पहुंचा सकें। हमने अपने कस्टमर्स को हाइपर-पर्सनल देखभाल देने के लिए एक मूल्यांकन प्रक्रिया अपनाई है जो कि 30,000 घंटे से ज्यादा के इन्टेन्सिव रिसर्च, विशेषज्ञों के सहयोग तथा आयुर्वेद, हर्बल अर्क और एसेंशियल ऑइल्स से जुड़ी ऐतिहासिक साक्ष्यों पर आधारित है, जहां मॉडर्न टेक्नोलॉजी को अपनाया गया है और ऑर्गेर्निक इंग्रेडिएंट्स भी प्रचुर मात्रा में मौजूद हैं।”


इंकनट डिजिटल वैदिक्स ब्रांड का ग्रुप होल्डिंग्स है।


वैदिक्स ने पूरे भारत में ग्राहकों तक पहुंच बढ़ाने के लिए D2C और ऑनलाइन मार्केटप्लेस मॉडल का बुद्धिमानी से लाभ उठाकर इंडियन ब्यूटी मार्केट में एक प्रमुख स्थान बनाया है। 2020 में स्किनकेयर रेंज लॉन्च करके यह भारत का पहला स्किनकेयर ब्रांड बन गया, जिसने अच्छी क्वालिटी वाले इंग्रेडिएंट्स से बने 100% फूड ग्रेड नॉनफोमिंग क्लीन्ज़र को लॉन्च किया।


 “हमारे लगभग 65% कस्टमर्स उत्तर प्रदेश के लखनऊ, कानपुर, इलाहाबाद, मेरठ, आगरा वाराणसी जैसे शहर इत्यादि में भी स्थित हैं। आयुर्वेद की अच्छाइयाँ सभी को मालूम है, हम भारतीयों की जड़ों तक आयुर्वेद की विशेषताओं को पहुंचाना चाहते हैं ताकि सभी को किफायती मूल्य में सही और आवश्यक सोल्युशंस मिल सकें”जतिन ने आगे कहा।


गुजरातीजी पर ग्रोथ स्ट्रेटेजी और रीजनल मार्केट का कार्यभार है, “हम देश में वैदिक्स को हर घर तक पहुंचाना चाहते हैं। वर्तमान में, हमारी वार्षिक रन रेट 160 करोड़ रुपये से अधिक की है जिसे 2025 तक 500 करोड़ रुपये तक पहुंचाने का लक्ष्य है। इस आशा से कंपनी इस साल प्रमुख रीजनल और अंतरराष्ट्रीय मार्केट में दाखिल होने की योजना बना रही है।


2017 में इसकी शुरुआत के बाद से, 3 मिलियन कस्टमर्स ने अपने हेयर और स्किन की समस्याओं को गहराई से समझने के लिए व्यक्तिगत प्रश्नावली - VPQ – भरी है। लॉन्च के बाद से कंपनी ने एक मिलियन से अधिक ऑर्डर प्राप्त किए हैं और हर महीने 50,000 नए ग्राहक हमसे जुड़ रहे हैं। वैदिक्स की ग्राहक दर 60% है जो इस इंडस्ट्री के औसत से दोगुना है।


लगातार फीडबैक लूप और ग्राहक डेटा ने हमें हमारी सुविधाओं को और बेहतर बनाने में मदद की है, जिससे हम हर व्यक्ति को एक विशेष अनुभव दे पा रहे हैं। बाजार में अधिकांश आयुर्वेद प्रोडक्ट्स

Popular posts
Sustainable Mining: How new technologies are reshaping the mining industry
Image
जो परिवार का नहीं हुआ वो प्रदेश का क्या होगा? भाजपा का समाजवादी पार्टी पर तंज
Image
क्यों हमें सविता जैसी बेटियों के स्वागत की ज्यादा जरुरत है जब एक महिला शिक्षित होती है तो एक राष्ट्र शिक्षित होता है।
Image
*ऑर्बिया के बिल्डिंग एवं इंफ्रास्ट्रेक्चंर बिजनेस वाविन ने वेक्ट्स के साथ साझेदारी की इस सहयोग की मदद से कंपनी भारतीय बाजार को जल एवं स्वीच्छवता समाधानों तक पहुँच प्रदान करेगी*
Image
थम्स अप के नये कैम्पेन ‘तूफान’ ने जसप्रीत बुमराह के साथ इसके स्वाद को और बढ़ाया
Image