*पश्चिम की सियासत में बड़ा बदलाव: चुनाव से ठीक पहले चला नया राजनीतिक दांव, साइकिल और हाथी पर सवार हुए ये दिग्गज नेता*



विधानसभा चुनाव से ठीक पहले पश्चिमी यूपी की सियासत में बड़ा बदलाव हो गया है। आज कांग्रेस के दिग्गज नेता इमरान मसूद ने समाजवादी पार्टी और उनके भाई नोमान मसूद ने बसपा ज्वॉइन कर ली है। 


सहारनपुर जनपद ही नहीं, पश्चिमी उत्तर प्रदेश में राजनीति की धुरी माने जाने वाले मसूद परिवार के दो जुड़वा भाइयों इमरान मसूद और नोमान मसूद ने विधानसभा चुनाव से ठीक पहले फिर से नया राजनीतिक दांव चला है। एक ओर जहां इमरान मसूद ने कांग्रेस छोड़कर सपा का दामन थाम लिया है। वहीं नोमान मसूद ने राष्ट्रीय लोकदल छोड़कर गाजियाबाद में बहुजन समाज पार्टी की सदस्यता ग्रहण कर ली है। नोमान तीन महीने पहले ही रालोद से जुड़े थे।  संजय गर्ग ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट कू पर लिखा कि कांग्रेस के दिग्गज नेता आज समाजवादी पार्टी में शामिल होने के बाद पार्टी को एक नई ताकत मिली है। इसी के साथ अब सहारनपुर की सभी सीट पर समाजवादी पार्टी की जीत पक्की हो गई है। इमरान मसूद जी के आने से सपाइयों में नए जोश का संचार हुआ है। जो ये बताता है कि अखिलेश जी के नेतृत्व में प्रदेश में समाजवादी पार्टी की सरकार आ रही है।पश्चिम यूपी की सभी विधानसभा सीटों पर सपा को प्रचंड बहुमत मिलेगा


इमरान मसूद वर्ष 2014 से पहले सपा में थे। 2014 के लोकसभा चुनाव के दौरान वह कांग्रेस में शामिल हुए थे। इमरान मसूद की बिठाई गोटियों के दम पर ही 2017 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को दो सीटें मिली थीं। नरेश सैनी बेहट तो मसूद अख्तर सहारनपुर देहात से चुनकर विधान सभा में पहुंचे थे। वर्तमान में इमरान मसूद कांग्रेस में राष्ट्रीय सचिव थे। बीते करीब दो माह से उनके कभी बसपा तो कभी सपा में जाने की चर्चाएं थीं। इन चर्चाओं को विराम तब लगा, जब चार दिन पहले उनकी मुलाकात लखनऊ में सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव से हुई। हालांकि वह मुलाकात को लेकर चुप्पी साधे रहे, लेकिन सोमवार को उन्होंने अंबाला रोड स्थित अपने आवास पर आयोजित समर्थकों की बैठक में समाजवादी पार्टी में जाने की घोषणा कर दी। 


उन्होंने कहा कि वर्तमान परिस्थितियों में सपा ही भाजपा को हराने में सक्षम है। कांग्रेस ने उन्हें बहुत सम्मान दिया है, लेकिन वर्तमान की परिस्थितियां ऐसी बनी हैं कि उन्हें सपा के साथ जाना पड़ा है। उन्होंने यह भी कहा कि सपा जनहित में कार्य करती है। किसान, नौजवान, बेरोजगार, व्यापारी, उद्यमी सहित प्रत्येक वर्ग के बारे में सपा सोचती है। इसीलिए उन्होंने कार्यकर्ताओं के साथ बैठक कर सपा में जाने का निर्णय लिया है। 


इमरान ने कहा कि सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के निर्देशानुसार ही जिले की सातों विधानसभा सीटों पर प्रत्याशी उतारे जाएंगे, जिनको वह जिताने का प्रयास करेंगे। यह पूछे जाने पर कि वह किस विधानसभा से चुनाव लड़ेंगे। कहा कि पार्टी हाईकमान का फैसला ही उनके लिए सर्वोपरि होगा। 


उधर, उनके जुड़वा भाई नोमान मसूद ने भी सोमवार को गाजियाबाद में पश्चिमी उत्तर प्रदेश प्रभारी शमशुद्दीन राइन की मौजूदगी में बसपा ज्वॉइन कर ली। तीन माह पहले ही नोमान ने दिल्ली में जयंत चौधरी के निवास पर राष्ट्रीय लोकदल की सदस्यता ग्रहण की थी। दोनों जुड़वां भाइयों के एक साथ अलग-अलग पार्टियों में जाने से जनपद की राजनीति में चर्चाओं का बाजार गर्म हो गया है। 


विधायक मसूद अख्तर भी जा सकते हैं सपा में

देहात सीट से कांग्रेस के विधायक मसूद अख्तर भी समाजवादी पार्टी में शामिल हो सकते हैं। हालांकि अभी उन्होंने इसकी घोषणा नहीं की है, लेकिन उनका कहना है कि वह इमरान मसूद के साथ हैं। माना जा रहा है कि इमरान मसूद जल्द ही विधायक मसूद अख्तर के साथ लखनऊ में सपा प्रमुख अखिलेश यादव के समक्ष पार्टी में शामिल होने की घोषणा कर सकते हैं।

Popular posts
भोपाल में 2 से 4 दिसंबर के बीच लगेगा विशाल कृषि मेला; नव तकनीक, जैविक उत्पादों और स्टार्टअप्स के लिए नए मौके • जैविक उत्पादकों के लिए बी2बी बी2सी मार्केट व्यवस्था • किसान सलाहकार बूथ और नई तकनीकों की प्रदर्शनी • किसान फार्मर व जैविक-प्राकृतिक कृषि पर विशेष जोर
Image
एथर एनर्जी ने बिहार में की रिटेल बिक्री की शुरुआत; पटना में अपने पहले एक्सपीरियंस सेंटर का उद्घाटन किया
Image
बॉलीवुड अभिनेता आयुष मेहरा ने एक रोमांचक प्रोजेक्ट की शूटिंग के दौरान दुबई शहर किया एक्स्प्लोर*
Image
एसबीआई जनरल इंश्योरेंस ने लॉन्चन किया #बहाने छोड़ो टैक्स बचाओ; स्वास्थ्य बीमा के साथ टैक्स बचाने पर एक अनोखा वॉक्स पॉप कैंपेन
Image
पैशन के पीछे भागने से बेहतर उसे जीवित रखना - एक्टर-
Image