ज़ी बॉलीवुड मना रहा है 101% शुद्ध ब्लॉकबस्टर फिल्म 'जुदाई' के शानदार 25 साल का जश्न, 28 फरवरी को



 


"लालच बहुत बड़ी कमजोरी है इंसान की"….. 90 के दशक की ब्लॉकबस्टर फिल्म ‘जुदाई’ का यह डायलॉग इस फिल्म के संदेश को बखूबी समेटता है। इस फिल्म में बॉलीवुड की बेमिसाल जोड़ी - अनिल कपूर और श्रीदेवी के साथ खूबसूरत उर्मिला मातोंडकर ने प्रमुख भूमिकाएं निभाई हैं। इस फिल्म को दुनिया भर में बड़ी पहचान और तारीफें मिलीं, वहीं उपासना सिंह के पॉपुलर डायलॉग 'अब्बा डब्बा जब्बा' और माथे पर सवाल का निशान लिए परेश रावल के किरदार 'हमशक्ल' ने इस फिल्म में कॉमेडी एलिमेंट शामिल किया था, जिसका दर्शकों पर लंबे समय तक असर रहा। इस फिल्म में न सिर्फ शानदार परफॉर्मेंस थीं, बल्कि यह बॉलीवुड का एक सफल प्रयास भी था, जिसमें पैसों की लालची एक औरत और उसका सफर दिखाया गया था। एक ताज़गी भरी कहानी, हिट गाने और बेहतरीन डायलॉग्स के साथ यह फिल्म उस साल की सबसे ज्यादा कमाई करने वाली फिल्मों में से एक बन गई। हालांकि जुदाई श्रीदेवी और अनिल कपूर की एक साथ आखिरी फिल्म थी, लेकिन यह मशहूर जोड़ी आज भी लोगों की फेवरेट है। यह फिल्म 28 फरवरी को 25 साल का धमाकेदार सफर पूरा कर रही है। इस मौके का जश्न मनाते हुए 101% शुद्ध बॉलीवुड चैनल ज़ी बॉलीवुड 28 फरवरी को रात 9 बजे 90 के दशक का यह 101% शुद्ध ड्रामा प्रसारित करने जा रहा है।


उन खूबसूरत यादों को ताजा करते हुए अनिल कपूर ने कहा, "जुदाई के 25 साल मनाना और इसे सबको बताना बड़ा खुशनुमा एहसास है। श्रीदेवी और उर्मिला जैसी दो जबर्दस्त टैलेंटेड अभिनेत्रियों के साथ काम करके वाकई बहुत अच्छा लगा। उस समय काम करने का तरीका बहुत अलग हुआ करता था और उसका अपना आकर्षण था। मुझे याद है एक खास सीन था, जब हम एक गाने की शूटिंग कर रहे थे जिसका नाम था 'हां मुझे प्यार हुआ अल्लाह मियां' और मुझे उर्मिला को देखते हुए अपना सनग्लास निकालकर अपने जैकेट में रखना था, लेकिन मुझे नहीं पता था कि मैंने जो जैकेट पहनी थी, उसमें कोई जेब ही नहीं थी। शॉट के दौरान मुझे इस बारे में नहीं पता था और मैं अपने सनग्लास रखने के लिए जगह ढूंढ रहा था। यह देखकर पूरा क्रू खिलखिलाकर हंस पड़ा और वही शॉट फाइनल कट बना। उन दिनों को याद करके बहुत खुशी होती है। मैं फिल्म जुदाई के 25 यादगार वर्षों का जश्न मनाने के लिए बेहद उत्साहित हूं।"


1997 में आई उस साल की ब्लॉकबस्टर फिल्म जुदाई, राज (अनिल कपूर) और काजल (श्रीदेवी) की एक छोटी-सी फैमिली की कहानी है, जो एक साधारण जिंदगी जी रहे हैं। लेकिन जब राज के बॉस की बेटी जाह्नवी (उर्मिला मातोंडकर) उनके शहर में आती है, तो उनके रिश्ते की परीक्षा होती है। उर्मिला राज से बेइंतेहा प्यार करने लगती है और ढेर सारे पैसों के बदले राज से शादी करना चाहती है। उधर, पैसों और ऐशो आराम की लालच में आकर काजल इसके लिए मान जाती है और राज को जाह्नवी से शादी करने के लिए मनाती है। लेकिन काजल इस शादी के बाद आने वाली मुश्किलों से अनजान रहती है और फिर वो अपने पति और परिवार को वापस पाने के लिए संघर्ष करती है।


ज़ी बॉलीवुड के साथ मनाइए फिल्म जुदाई के 25 गौरवशाली वर्षों का जश्न, 28 फरवरी को रात 9 बजे!

Popular posts
मिलिए एंडटीवी के 'हप्पू की उलटन पलटन' की नई दबंग दुल्हनिया 'राजेश' उर्फ ​​गीतांजलि मिश्रा से!
Image
एण्डटीवी की नई प्रस्तुति ‘अटल‘ अटल बिहारी वाजपेयी के बचपन की अनकही कहानियों का होगा विवरण्
Image
"मैं अपने किरदार से गहराई से जुड़ा हूं क्योंकि उसी की ही तरह मैं भी कम शब्दों में बहुत कुछ कह देता हूं" ज़ी थिएटर के टेलीप्ले 'तदबीर' में वे एक पूर्व सेना अधिकारी की भूमिका निभा रहे हैं
Image
वार्ड क्रमांक 53 के पार्षद कोरोना कॉल में कर रहे जरूरतमंदों की लगातार मदद।
Image
हर जुबां पर बुंदेली ज़ायके का स्वाद चढ़ाने आ रहा बुंदेली शेफ सीजन-2 18 से 45 वर्ष तक की बुंदेली महिलाएं ले सकती हैं हिस्सा प्रतियोगिता में देश के किसी भी कोने से ले सकते हैं भाग बुंदेली शेफ विजेता को मिलेंगे 50 हजार रुपये तक के आकर्षक उपहार
Image