परसा खदान के समर्थन में रैली के बाद सरगुजा के ग्रामीणों की रायपुर कूच करने की योजना !



रायपुर: सुरगुजा जिला कलेक्टर के सामने राजस्थान की परसा खदान के समर्थन में प्रदर्शन के बाद अब वे राजधानी रायपुर पहुंचकर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, उनके मंत्रीगण और राज्यपाल अनुसुइया उइके के सामने अपनी मांग रखने की योजना बना रहे है। पिछले सप्ताह पीईकेबी खदान के दूसरे चरण को राज्य सरकार की अनुमति के बाद सुरगुजा के ग्रामीणों को आशा है की उनके क्षेत्र में परसा खदान जल्द शुरू होनी चाहिए जिससे की उन्हें रोजगार के अवसर मिल सके।


यह उल्लेखनीय है की खदाने शुरू होने में देरी के कारण रोजगार की अनुपस्थिति में जमीन देने वाले ग्रामीण अक्सर मुआवजे की राशि को खर्च करने पर मजबूर हो जाते है और उनका भविष्य अनिश्चित हो जाता है। इसके अलावा खदान कम्पनिया भी सामाजिक उत्तरदायित्व की आर्थिक और महिला सशक्तिकरण या शैक्षणिक और कौशल विकास की योजनाएँ समय से शुरू कर नहीं पाती।    


ग्राम परसा की निवासी श्रीमती वीणा ने कहा कि," हम यहाँ परसा कोल् ब्लॉक खुलवाने के समर्थन के लिए कलेक्टर से मिलने आये थे। जैसे पास ही में पीईकेबी खदान से सभी को रोज़गार मिला और हमारे बच्चों को अच्छी शिक्षा मिल रही है। क्षेत्र में खदानों का काम बढ़ने से गाँव के महिलाओं और पुरुषो को रोजगार शिक्षा और स्वास्थ्य सेवाओं को विस्तार होगा।"  


मंगलवार को करीब 1500 स्थानीय ग्रामीण सुरगुजा जिला कलेक्टर संजीव कुमार झा को परसा खदान जल्द से जल्द शुरू करवाने के लिए अनुरोध करने पहुंचे। उन्होंने अपने पहचान पत्र दिखाकर बताया की रायपुर स्थित कुछ बाहरी तत्त्व स्थानीय ग्रामीणों  को अपने निजी स्वार्थ के लिए उनको, सरकार और पत्रकारों को प्रायोजित प्रदर्शन द्वारा गुमराह कर रहे है।  कलेक्टर झा ने ग्रामीणों की बात को सरकार तक पहुँचाने का भरोसा दिलाते हुए कहा की उन्हें मुठीभर गुमराह हुए लोगो से बातचीत कर उन्हें समझाने की सलाह दी ताकि गाँवों में  सौहार्दपूर्ण वातावरण बना रहे। प्रदर्शनकारियो ने यह भी दावा किया की कहे जाने वाले कार्यकर्ता अलोक शुक्ला ने कुछ स्थानिक असामाजिक तत्वों के साथ मिलकर खदान को एक राजकीय मुद्दा बनाकर राजस्थान के लोगो को भी सस्ती बिजली से वंचित रखने का षड़यंत्र किया है।  


पिछले सप्ताह इन स्थानीय ग्रामीणों ने राज्यपाल महोदया उइके के अंबिकापुर दौरे के दौरान उन्हें भी खदान ना खुलने से होने वाली तकलीफों के बारे में अवगत कराया था। स्थानीय लोग अब परसा खदान की मांग को लेकर अपनी आवाज बुलंद करने का आयोजन कर रहे है। इसके चलते परसा, घाटबर्रा, फत्तेपुर, जनार्दनपुर, साल्हि, इत्यादि गाँव के अग्रणी कलेक्टर को ज्ञापन देकर सफल रैली के बाद फिर से अंबिकापुर के महामाया मंदिर में आगे की रणनीति तय करने के लिए मिले। मौजूद ग्रामीणों ने निर्णय किया है की उनका प्रदर्शन परसा खदान शुरू न होने तक चलता रहेगा।  


"मेरे ग्राम में पहले से जो खदान चल रहा है उसके लिए धन्यवाद करता हूँ और जो परसा कोल ब्लॉक परियोजना के रुके हुए काम है उसको जल्द से खोलने के लिए मैं छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री से अनुग्रह करता हूँ की वो जल्द से जल्द इसे खोलें जिससे हमारे ग्राम के बेरोजगार युवाओं को रोजगार मिले और हमारे ग्राम में जो विकास की गंगा बह रही है वो आगे भी बहती रहे। हम यहां इसके समर्थन में आये हैं|" ग्राम परसा के ही दिनेश कुमार ने कहा।    

 

सरगुजा जिले में राजस्थान राज्य विद्युत उत्पादन निगम लिमिटेड (आरआरवीयूएनएल) की ताप विद्युत परियोजनाओं के लिए तीन कोल ब्लॉक परसा ईस्ट केते बासेन (पीईकेबी), परसा और केते एक्सटेंशन केंद्र सरकार द्वारा कई साल पहले आवंटित किया गए थे। अभी पीईकेबी ब्लॉक में खनन का कार्य चल रहा है।  राजस्थान और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्रीओ की रायपुर में मुलाकात के बाद पीईकेबी ब्लॉक के दूसरे चरण के लिए बघेल सरकार से अनुमति भी मिल गयी है लेकिन शेष दो ब्लॉकों के लिए शासन को निर्णय लेना अभी बाकी है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री भूपेश बघेलने जल्द ही आरआरवीयूएनएल की खदान परियोजनाओं को नियमानुसार मंजूर करने का आश्वासन दिया था और अब उनको स्थानीय लोगो का भी बढ़चढ़कर समर्थन मिल रहा है।  ऐसेमें राजस्थान को भी अपनी करीब 4000 MW से ज्यादा कोयला आधारित इकाईयां चलाने के लिए कोयला मिल सकेगा। हाल ही में केंद्र सरकार द्वारा परसा खदान के लिए राजस्थान सरकार को जरुरी अनुमति मिल गयी है और बघेल सरकार की अनुमति लंबित है। राजस्थान में करीब 4000 MW से भी ज्यादा इकाईयां छत्तीसगढ़ के कोयला पर आधारित है। छत्तीगसढ़ देश का सबसे बड़ा कोयला उत्पादन करने वाला राज्य है जहां खदान कार्य से मिलते राजस्व से सरकार राज्य की प्रजा के लिए कल्याणकारी योजनाएँ चला सकती है।

Popular posts
हम फिल्म को यथासंभव वास्तविक रखना चाहते थे": नवोदित निर्देशक सुदर्शन गामारे*
Image
अपना दल (एस) मध्य प्रदेश कार्यकारिणी का गठन, विभिन्न पदों पर सौंपी जिम्मेदारियां अनुभवी, युवा व महिला सदस्यों पर जोर स्वदेशी कू समेत सभी सोशल प्लेटफॉर्म्स पर सक्रियता डिजिटल टूल्स द्वारा नए सदस्यों को जोड़ने की कवायद
Image
न्यूज 24 (बीएजी नेटवर्क) ने पॉडकास्ट 24- आवाज सबकी किया लॉन्च
Image
भारत का सबसे बड़ा कार डीलरशिप नेटवर्क, ग्रुप लैंडमार्क अब पंजाब पहुंचा o ग्रुप लैंडमार्क ने राज्य में दो नए लैंडमार्क शोरूम लॉन्च करते हुए पंजाब में अपनी मौजूदगी बढ़ाई। o जीप मेरिडियन में 2.0-लीटर टर्बोचार्ज्ड डीजल इंजन लगा हुआ है। o इस इवेंट में लोकप्रिय गायक जस्सी गिल के साथ ग्रुप लैंडमार्क की एम.डी गरिमा मिश्रा और सी.एम.ओ रेणुका डुडेजा ने भागीदारी की। लुधियाना, 21 मई, 2022: भारत में सबसे बड़े कार डीलरशिप नेटवर्क का परिचालन करने वाले, ग्रुप लैंडमार्क, ने पंजाब में दो नए लैंडमार्क शोरूम लॉन्च करने की घोषणा की। इन दो नए जीप लैंडमार्क शोरूम में से पहला लुधियाना में, और दूसरा जालंधर में स्थित है। कंपनी ने नई जीप मेरिडियन एसयूवी के साथ नए बाजार में अपनी मौजूदगी दर्ज की है, जिसे हाल ही में 29.9 लाख रुपये से लेकर 36.95 लाख रुपये (एक्स-शोरूम) की प्रारंभिक मूल्य सीमा के साथ लॉन्च किया गया था। इस मेड-इन-इंडिया और मेड-फॉर-इंडिया थ्री-रो जीप एसयूवी को लुधियाना के लैंडमार्क जीप शोरूम में एक इवेंट में प्रदर्शित किया गया, जिसमें लोकप्रिय गायक जस्सी गिल तथा ग्रुप लैंडमार्क की एम.डी गरिमा मिश्रा और सी.एम.ओ रेणुका डुडेजा ने भाग लिया। पंजाब में दो नए लैंडमार्क शोरूम के लॉन्च के मौके पर, ग्रुप लैंडमार्क के चेयरमैन और संस्थापक, संजय ठक्कर ने कहा कि "1998 से, ग्रुप लैंडमार्क ने अपना ध्यान देश में कार खरीदारों को एक नया अनुभव प्रदान करने पर केंद्रित किया है, जिसकी वजह से कंपनी इंडस्ट्री की प्रमुख कंपनी के रूप में विकसित हुई है, और इस उपलब्धि को हासिल करने में देश भर में बेहतरीन कार डीलरशिप के विशाल नेटवर्क की महत्वपूर्ण भूमिका है। इस विकास यात्रा को जारी रखते हुए, पंजाब हमारे लिए साफ तौर पर एक पसंदीदा जगह थी, क्योंकि क्षेत्र के निवासियों की बढ़ती संपन्नता के कारण, यह राज्य क्षमताओं से भरा हुआ है। जीप मेरिडियन पहले से ही जोखिम उठाने की अपनी साहसिक विशेषज्ञता के लिए जाना जाता है और अब यह वाहन राज्य में ग्रुप लैंडमार्क की मौजूदगी की घोषणा करने के लिए एक आदर्श वाहन के रूप में मौजूद रहा।” पंजाब के ऑटोमोटिव बाजार में ग्रुप लैंडमार्क का प्रवेश ग्रुप लैंडमार्क के दो जीप डीलरशिप के लॉन्च के साथ शुरू हो गया है: एक जालंधर में और दूसरा लुधियाना में। जालंधर शोरूम, जीटी रोड पर स्थित है, जो कुल 12,000 वर्ग फुट के क्षेत्र में फैला हुआ है, और लुधियाना शोरूम कुल 8,000 वर्ग फुट के क्षेत्र में फैला हुआ है। जीप मेरिडियन अपने साथ उत्साह और विशेषज्ञता का एक अनूठा मिश्रण लेकर आया है, जिसमें एडवान्स्ड आर्किटेक्चर, शानदार डिजाइन, शक्तिशाली तकनीकी खूबियों और पूरे सेगमेंट में अग्रणी रूप से मौजूद कई विशेषताएं हैं। इसके अलावा, इसमें फ़्रीक्वेंसी सेलेक्टिव डैम्पिंग (एफएसडी) तकनीक के साथ पूरी तरह से स्वतंत्र फ्रंट एवं रियर सस्पेंशन सेटअप, सबसे अच्छा कूलिंग परफॉरमेंस आदि शामिल हैं। जीप मेरिडियन 2.0-लीटर टर्बोचार्ज्ड डीजल इंजन द्वारा परिचालित है जो 3,750 आरपीएम पर 125 किलोवाट (170 एचपी) जेनेरेट करता है और 1,750-2,500 आरपीएम के बीच 350 एनएम का अधिकतम टॉर्क उपलब्ध है। दोनों उपलब्ध ट्रिम्स, यानी लिमिटेड और लिमिटेड (O), 4x2 फ्रंट-व्हील ड्राइव और छह-स्पीड मैनुअल ट्रांसमिशन और नौ-स्पीड ऑटोमैटिक ट्रांसमिशन के विकल्प के साथ उपलब्ध हैं। लिमिटेड (O) ट्रिम में 4x4 ऑल-व्हील ड्राइव के साथ नौ-स्पीड ऑटोमैटिक ट्रांसमिशन भी उपलब्ध है। ग्रुप लैंडमार्क के बारे में ग्रुप लैंडमार्क भारत में सबसे बड़े प्रीमियम और लक्जरी ऑटोमोटिव रिटेल व्यवसायों में से एक है, जिसमें मर्सिडीज-बेंज, वोक्सवैगन, होंडा, जीप, रेनॉल्ट और बीवाईडी जैसे शीर्ष स्तरीय ब्रांड की डीलरशिप उपलब्ध है। ग्राहकों को शुरू से अंत तक अद्वितीय खरीदारी अनुभव प्रदान करने के लिए, कंपनी सामान्य ऑटोमोटिव डीलरशिप के दायरे से आगे है, क्योंकि ऑटोमोटिव रिटेल वैल्यू चेन में ग्रुप लैंडमार्क की मजबूत उपस्थिति है। इसके अलावा, इसमें नए वाहनों की बिक्री के अलावा कई सारी सेवाएं शामिल हैं, जैसे पूर्व-स्वामित्व वाले यात्री वाहनों की आफ्टर-सेल्स सर्विस और थर्ड पार्टी फाइनेंशियल और इंश्योरेंस प्रोडक्ट्स। ग्रुप लैंडमार्क ने 1998 में अपनी पहली डीलरशिप शुरू की, और तब से, आठ राज्यों में 115 आउटलेट्स को शामिल करके अपने नेटवर्क का विस्तार किया है। ग्रुप लैंडमार्क के बारे में अधिक जानकारी के लिए देखें: www.grouplandmark.in
Image
साक्षी तंवर हमारे देश की बेहतरीन अभिनेत्रियों में से एक हैं’’ अनिल कपूर, अनुष्‍का शर्मा ने नेटफ्लिक्‍स इंडिया के ‘माई’ पर की तारीफों की बौछार
Image