इस त्योहारी सीजन में, माज़ा का नया कैंपेन प्रियजनों के बीच पैदा करेगा एकजुटता की भावना ब्रांड के अम्ब्रेला 'दिलदार बना दे' के एड में ब्रांड एंबेसडर अमिताभ बच्चन और पूजा हेगड़े की जोड़ी




नई दिल्ली, 16 जुलाई 2022: परिवर्तनात्मक कहानी सुनाने और रचनात्मक अवधारणा के साथ भारतीय त्योहारी सीजन की शुरुआत करते हुए, कोका-कोला इंडिया के पसंदीदा देसी मैंगो ड्रिंक, माज़ा ने एक नए कैंपेन का अनावरण किया है, जो कंपनी के सामाजिक संबंधों को प्रेरित करने और प्रियजनों को एक साथ लाने के उद्देश्य से पूरी तरह से ओतपोत है।


इस नए विज्ञापन के साथ, माज़ा का लक्ष्य पारिवारिक एकजुटता के क्षणों में खुद को एक पसंदीदा पेय के रूप में स्थापित करना है। इस एड फिल्म के लिए, ब्रांड ने एक बार फिर अपने एम्बेसडर - प्रसिद्ध दिग्गज अभिनेता अमिताभ बच्चन के साथ-साथ प्रसिद्ध अभिनेत्री और मॉडल पूजा हेगड़े को लिया है।


पूरे देश में मासिक तौर पर 200 मिलियन से अधिक, उपभोक्ताओं के साथ, ब्रांड का उद्देश्य देश का सबसे प्रिय आम पेय बने रहना है। इसके साथ ही यह ब्रांड भारतीय किसानों के सामाजिक-आर्थिक सशक्तिकरण में भी अपनी एहम भूमिका निभा रहा है।  कोका-कोला इंडिया की सतत कृषि पहल - 'फ्रूट सर्कुलर इकोनॉमी' के सहयोग से, स्थानीय सामग्री का उपयोग कर,  इस घरेलू ब्रांड माज़ा को ख़ास तौर से भारत में ही तैयार किया जाता है।  


नए अभियान के शुभारंभ की घोषणा करते हुए अजय कोनाले, निदेशक विपणन, नुट्रिशन केटेगरी , कोका-कोला इंडिया और दक्षिण पश्चिम एशिया ने कहा, “इस साल की शुरुआत में, हमने माज़ा के नए अम्ब्रेलाअभियान  'दिलदारी'  का अनावरण किया, जिससे विशिष्ट तरीके से आम के बेहतरीन अनुभव के रूप में माज़ा को सुदृढ़ करने में मदद मिली। बतौर एक फल आम की भारत में एक अनूठी और विशिष्ट भूमिका है। भारतीय परिवारों में घर का एक-एक सदस्य आम का लुत्फ़ उठाता है। आम के एक प्रामाणिक अनुभव के रूप में, माज़ा परिवारों, पीढ़ियों को आम से इस लगाव पर एक साथ आने के लिए प्रेरित  करना चाहता है और एकजुटता के इन पलों की मिठास को बढ़ाना  चाहता है। पहले की तुलना में  यह आज विशेष रूप से प्रासंगिक भी है क्योंकि परिवार के लोगों की आपसी बातचीत भी काफी सीमित हो गई है। हमने 2022 की शुरुआत में श्री अमिताभ बच्चन और सुश्री पूजा हेगड़े के साथ मिलकर नई दिलदारी पोजिशनिंग शुरू करने के लिए काम किया। परिवार और उत्सव अभियान के लिए हमारे ब्रांड के मूल्यों को मूर्त रूप देने वाले इन दो सितारों के साथ हम अपना अभियान, जिसका हम अनावरण कर रहे हैं, जारी रखेंगे। हम अपने उपभोक्ताओं के लिए माज़ा की तृप्ति से पारिवारिक एकजुटता लाने के अपने इस विचार को राष्ट्रीय और क्षेत्रीय टेलीविजन और डिजिटल माध्यमों पर दिखाने के लिए एक महत्वपूर्ण निवेश करने जा रहे हैं। ”


माज़ा के 'दिलदारी' के दर्शन को जीवंत करने के लिए श्री बच्चन और सुश्री हेगड़े की हमारे साथ निरंतर साझेदारी रखने के लिए हम बेहद रोमांचित हैं और तह दिल से उनका आभार प्रकट करते हैं।"


दिल को छू लेने वाले इस टीवीसी में अमिताभ बच्चन और पूजा हेगड़े को एक दादा और पोती की जोड़ी की भूमिका निभाते हुए दिखाया गया है, जिन्हें माज़ा के एक गिलास (या दो) पर अनकही पारिवारिक कहानियों को बड़े ही मजेदार ढंग से आदान-प्रदान करते हुए देखा जा सकता है। फिल्म का उद्देश्य यह दिखाना है कि परिवार के साथ बिताये जाने वाले मजेदार पल और बातचीत कितनी मोहक होती है, जब लोग एक साथ आते हैं, अपनी कहानियों को साझा करते हैं और एक अटूट बंधन बनाते हैं तो आपार खुशी मिलती है।


भारतीय अभिनेत्री और नए माज़ा अभियान की स्टार पूजा हेगड़े ने कहा, “माज़ा ने मेरे दिल में एक ख़ास जगह बना रखी  है, और इस वर्ष ब्रांड की यात्रा का निरंतर हिस्सा बनने का अवसर पाकर मैं खुद को गौरवान्वित महसूस कर रही  हूं। हम इस साल जैसे-जैसे भारत में त्योहारों के मौसम के करीब आते जा रहे हैं, माज़ा का यह नया अभियान परिवारों, दोस्तों और प्रियजनों के बीच एकजुटता की एक विशेष भावना पैदा करता है। मैं इस खूबसूरत फिल्म का हिस्सा बनकर बेहद खुश हूं और मुझे एक बार फिर अपने आदर्श श्री बच्चन के साथ काम करने का मौका मिला है।”


इस कैंपेन फिल्म की परिकल्पना माज़ा के क्रिएटिव पार्टनर ओगिल्वी ने की है। अभियान के पीछे की रचनात्मक अंतर्दृष्टि पर टिप्पणी करते हुए, सुकेश नायक, मुख्य रचनात्मक अधिकारी, ओगिल्वी इंडिया कहते हैं, "आज की भागदौड़ भरी जिंदगी में, परिवार एक-दूसरे के साथ लगाव बनाये रखने के लिए,  एक साथ कुछ पल बिताने के लिए कुछ समय निकालना चाहते हैं। अपने असली आम के स्वाद के साथ माज़ा परिवार में हर किसी के लिए सब कुछ भूल जाने और रसीले आमों के स्वाद के साथ बंधने के लिए एकदम सही प्रलोभन है।“


फिल्म का निर्देशन शूजीत सिरकर ने किया है, जिन्होंने एक दादा और पोती के बीच इस दिल को छू लेने वाली कहानी को जीवंत बना दिया है। वह कहते हैं, “हाल ही में हम सभी इतने व्यस्त हो गए हैं कि हम अपने प्रियजनों के साथ ऐसे महत्वपूर्ण पलों को बिताने के लिए तरसते हैं। मुझे उस सीन में सबसे ज्यादा मजा आया जब पूजा के दादा के रूप में मिस्टर बच्चन पूरे परिवार को एक साथ लाने के लिए इन छोटी-छोटी तरकीबों को आजमाते हैं और बात करते हैं, तो कमरा हंसी के ठहाकों से गूंज उठता है।”


इस साल की शुरुआत में दर्शकों के साथ एक विशेष जुड़ाव रखती यह अभियान फिल्म ब्रांड के अम्ब्रेला कैंपेन 'दिलदार बना दे' के तहत दयालुता और उदारता के मूल्यों को खूबसूरती से दर्शाती है। इस समर सीजन में, ब्रांड ने भारतीय बाजार में अपना पहला वर्जन - आम पन्ना भी लॉन्च किया था।


दशकों से, माज़ा आम के बेहतरीन स्वाद के साथ, अपने उपभोक्ताओं के मन, शरीर और आत्मा को  तरोताजगी प्रदान करती रही है। उपभोक्ताओं के अपने इस ब्रांड ने सालभर  पूरे देश में उनके आयोजनों, उत्सवों और खुशी के सभी क्षणों में एक महत्वपूर्ण भूमिका अदा की है। त्योहारों के इस मौसम में, माज़ा खुशी के मौकों का जश्न मनाने के लिए प्रियजनों को एक साथ लाने और अनंत मेलभाव पैदा करने वाले क्षणों को साझा करने की उम्मीद करता है।


इस कैम्पेन  फिल्म का लिंक: दिल के बातें देर तक # दिलदार बना दे 



कोका-कोला इंडिया के बारे में

भारत में कोका-कोला देश की अग्रणी बेवरेज कंपनियों में से एक है। कंपनी उपभोक्ताओं को कई प्रकार के स्वस्थ, उच्च गुणवत्ता वाले, ताज़ा पेय प्रदान करती है। वर्ष 1993 में देश में फिर से प्रवेश करने के बाद से, कंपनी अपने पेय उत्पादों - कोका-कोला, कोका-कोला नो शुगर, डाइट कोक, थम्स अप, थम्स अप चार्ज्ड, थम्स अप चार्ज्ड नो शुगर, फैंटा, लिम्का, स्प्राइट, स्प्राइट ज़ीरो, माज़ा, वीआईओ फ्लेवर्ड मिल्क, मिनट मेड रेंज ऑफ़ जूस, मिनट मेड स्मूदी और मिनट मेड विटिंगो, जॉर्जिया की हॉट एंड कोल्ड टी और कॉफी विकल्पों की रेंज, एक्वेरियस और एक्वेरियस ग्लूकोचार्ज, श्वेपेप्स, स्मार्टवाटर, किनले और बोनाक्वा पैकेज्ड पेयजल और किनले क्लब सोडा के साथ उपभोक्ताओं को तरोताजा कर रही है। कंपनी अपने स्वामित्व वाले बॉटलिंग परिचालन और अन्य बॉटलिंग पार्टनरों के साथ, 2.6 मिलियन से अधिक रिटेल दुकानों के एक मजबूत नेटवर्क के जरिये लाखों उपभोक्ताओं तक पहुँच रही है। कंपनी प्रति सेकंड  500 से अधिक उपभोक्ताओं को अपने उत्पाद मुहैया कराती है। इसके ब्रांड देश में सबसे पसंदीदा और सबसे ज्यादा बिकने वाले पेय पदार्थों में से हैं।


कोका-कोला इंडिया देशभर के 25,000 लोगों को प्रत्यक्ष और 150,000 से अधिक लोगों को अप्रत्यक्ष रोजगार प्रदान कर रही है। वर्ल्ड विदाउट वेस्ट, फ्रूट सर्कुलर इकोनॉमी, वाटर स्टीवर्डशिप, महिला सशक्तिकरण जैसे सामुदायिक पहल के जरिये कोका-कोला प्रणाली भारत में अपने खुद के प्रयासों से स्थायी समुदायों के निर्माण में बहुमूल्य योगदान दे रही है।


 



कंपनी के भारत संचालन और उसके उत्पादों के बारे में अधिक जानकारी के लिए, कृपया www.coca-colaindia.com और www.hccb.in पर विजिट करें।

Popular posts
फ्रैंकलिन टेम्पलटन मध्य प्रदेश में फ्रैंकलिन इंडिया बैलेंस्ड एडवांटेज फंड (FIBAF) कर रहे हैं लॉन्च • FIBAF का लक्ष्य फ्रैंकलिन टेम्पलटन के इन-हाउस प्रोप्रिटेरी डायनामिक अस्सेस्ट एल्लोकेशन मॉडल से प्राप्त, दोनों दुनिया के सर्वश्रेष्ठ को जोड़ना है • फ्रैंकलिन टेम्पलटन के लिए मध्य प्रदेश एक प्रमुख ग्रोथ मार्केट है, जिसका उद्योग एयूएम इंदौर, भोपाल, जबलपुर और ग्वालियर सहित अन्य जैसे शहरों में लगभग ५२,000 करोड़ रूपए का है
Image
मैंने इस शो से शिक्षा की अहमियत सीखी हैं‘‘ - आयुध भानुशालीं, भीमराव, एण्डटीवी के ‘एक महानायक डाॅ बी. आर. आम्बेडकर‘
Image
Clensta Covid 19 Protection Lotion – your long term shield against COVID 19 & the harmful effects of hand sanitisers
Image
भारत में पहली बार आयोजित की जा रही इंटरनेशनल एडवरटाइजिंग कॉन्फ्रेंस 2021
Image
मातृ दिवस‘ पर देखिये एण्डटीवी के आॅन-स्क्रीन माँ-बच्चों का खट्टा-मीठा रिश्ता
Image