समुदाय को बालिका शिक्षा के प्रति जागरूक करने के लिए एजुकेट गर्ल्स संस्था ने रवाना किया शिक्षा रथ एजुकेट गर्ल्स का शिक्षा रथ झाबुआ, धार, अलीराजपुर सहित बड़वानी के 300 गांवों में रवाना



झाबुआ, सितंबर 2022: एजुकेट गर्ल्स एक गैर-लाभकारी संस्था है जो भारत के ग्रामीण और शैक्षिक रूप से कमजोर वर्ग की लड़कियों की शिक्षा के लिए समुदायों को जुटाने पर अपना ध्यान केंद्रित करती है। संस्था बच्चों की शिक्षा तक पहुंच और गुणवत्ता में सुधार करने के लक्ष्य के साथ मध्यप्रदेश के धार,

झाबुआ, बड़वानी और अलीराजपुर जिले में कार्य कर रही है। पिछले कुछ महीनों से एजुकेट गर्ल्स धार, झाबुआ, बड़वानी और अलीराजपुर जिले में नामांकन अभियान चला रही है।

नामांकन अभियान की इसी कड़ी में समुदाय को बालिका शिक्षा के प्रति और अधिक जागरूक करने के लिए संस्था ने 1 सितंबर से नवाचार के रूप में “शिक्षा रथ” को सभी जिलों के गांवों में रवाना किया है। एजुकेट गर्ल्स का ये शिक्षा रथ करीब 15 दिनों तक धार, झाबुआ, बड़वानी और अलीराजपुर के 300 से भी अधिक गांवों में घूम घूम कर समुदाय को बालिका शिक्षा के प्रति जागरूक करने में मददगार साबित होंगे। संस्था के शिक्षा रथ बड़ी एलईडी डिस्पले से लेस हैं जिसके माध्यम से गांवों के लोगों को इककट्ठा कर उन्हें बालिका शिक्षा के महत्व पर आधारित वीडियो दिखाए जाते हैं। संस्था का मानना है कि उसके इस कदम से समुदाय बालिका शिक्षा के प्रति अधिक जागरूक होगा जिससे संस्था को बालिकाओं के नामांकन करने में मदद मिलेगी।

झाबुआ के जिला परियोजना समन्वयक श्री रालू सिंगार ने कहा, “स्थानीय चुनौतियों को ध्यान में रखते हुए एजुकेट गर्ल्स संस्था द्वारा चलाए जा रहा शिक्षा रथ, सामुदायिक जागरूकता के लिए अच्छी पहल है, इसके माध्यम से जिले में नामांकन में भी सहयोग मिलेगा साथ ही साथ जन प्रतिनिधियों की भागीदारी भी बढ़ेगी।”

एजुकेट गर्ल्स संस्था के मध्य प्रदेश के स्टेट ऑपरेशन लीड रंजीत नाथ ने बताया, “एजुकेट गर्ल्स में हम लड़कियों के नामांकन और उनकी शिक्षा में आने वाली सभी रुकावटों को दूर कर उनकी शिक्षा को सुनिश्चित करने के लिए प्रयासरत हैं। हमनें जिला प्रशासन तथा जिला शिक्षा केंद्र के साथ मिलकर शिक्षा के प्रति जागरूकता पैदा करने, शिक्षा के महत्व को प्रसारित करने और स्कूलों में नामांकन सुनिश्चित करने के लिए यह नामांकन अभियान शुरू किया है। हमें यकीन है कि इस शिक्षा रथ से कई लड़कियों को फायदा होगा।”

धार, झाबुआ, बड़वानी और अलीरापुर जिले में संस्था के शिक्षा रथ को मध्यप्रदेश शासन तथा जिला शिक्षा केंद्र का भरपूर समर्थन मिल रहा है। बड़वानी कलेक्टर श्री शिवराज सिंह वर्मा और धार जिले में जिला पंचायत सीईओ श्री केएल मीणा ने शिक्षा रथ को हरी झंडी दिखाई। दोनों जिलों की तर्ज पर अलीराजपुर में भी जिला कलेक्टर श्री राघवेंद्र सिंह और झाबुआ में जिला परियोजना समन्वयक श्री रालू सिंगार द्वारा रथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया।

Popular posts
"मैं अपने किरदार से गहराई से जुड़ा हूं क्योंकि उसी की ही तरह मैं भी कम शब्दों में बहुत कुछ कह देता हूं" ज़ी थिएटर के टेलीप्ले 'तदबीर' में वे एक पूर्व सेना अधिकारी की भूमिका निभा रहे हैं
Image
मिलिए एंडटीवी के 'हप्पू की उलटन पलटन' की नई दबंग दुल्हनिया 'राजेश' उर्फ ​​गीतांजलि मिश्रा से!
Image
ताइक्वांडो प्रीमियर लीग की द्वितीय श्रेणी वेट कैटेगरी का आयोजन दिसंबर 2023 में किया जाएगा • पुरुषों के लिए वेट कैटेगरी 55.1 किलोग्राम से 60.9 किलोग्राम होगी, जबकि महिलाओं के लिए 48.1 किलोग्राम से 53.9 किलोग्राम वेट कैटेगरी निर्धारित है • द्वितीय श्रेणी वेट कैटेगरी का आयोजन 5, 6 और 7 दिसंबर 2023 को किया जाएगा
Image
एण्डटीवी की नई प्रस्तुति ‘अटल‘ अटल बिहारी वाजपेयी के बचपन की अनकही कहानियों का होगा विवरण्
Image
हर जुबां पर बुंदेली ज़ायके का स्वाद चढ़ाने आ रहा बुंदेली शेफ सीजन-2 18 से 45 वर्ष तक की बुंदेली महिलाएं ले सकती हैं हिस्सा प्रतियोगिता में देश के किसी भी कोने से ले सकते हैं भाग बुंदेली शेफ विजेता को मिलेंगे 50 हजार रुपये तक के आकर्षक उपहार
Image