यूपी के कॉन्टेंट क्रिएटर रिस्की रिकी हर महीने 100 हजार सब्सक्राइबर्स को अपना बना रहे हैं



बुलंदशहर, उत्तर प्रदेश के रहने वाले कॉन्टेंट क्रिएटर रिस्की रिकी व्लॉगिंग की दुनिया में एक नया चेहरा हैं और यूट्यूब

प्लेटफॉर्म से जुड़ने के महज़ तीन महीनों में ही वे एक बहुत बड़ी संख्या में फॉलोअर्स का आँकड़ा पार कर चुके हैं। रिस्की

रिकी हर महीने 100 हजार सब्सक्राइबर्स जोड़ रहे हैं और कुछ ही महीनों में उनका चैनल लगभग 290 हजार

सब्सक्राइबर्स का आँकड़ा पार कर चुका है। इसमें कोई दो राय नहीं है कि उनकी इस अपार सफलता का पूरा श्रेय उनके

उस मनोरंजक कॉन्टेंट को जाता है, जो वे दिल छू लेने वाले पारिवारिक पल और गुदगुदाने वाली शरारतों के साथ अपने

फॉलोअर्स को परोसते हैं। रिस्की रिकी को सिंगापुर स्थित क्रिएटर टेक कंपनी, एनिमेटा द्वारा ऑनबोर्ड किया गया है, जो

डिजिटल क्रिएटर्स बनाने और उन पर ध्यान केंद्रित करने पर आधारित कंपनी है।

रिस्की रिकी द्वारा बनाए गए खूबसूरत पारिवारिक पलों और गुदगुदाती शरारतों के इस अनूठे मिश्रण को हर उम्र के

दर्शकों द्वारा पसंद किया जाता है। रिस्की रिकी की सफलता का श्रेय उनके भाई लखन से मिली सलाह को भी दिया जा

सकता है। लखनीत फेम, लखन भी एक प्रसिद्ध कॉन्टेंट क्रिएटर हैं। रिस्की रिकी के कॉन्टेंट क्रिएटर बनने के सफल सफर में

लखन का अहम् योगदान है।

वे कहते हैं, "मैं हमेशा से ही ऐसा कॉन्टेंट बनाना चाहता हूँ, जिसे हर उम्र के लोग पसंद करें। मैं चाहता हूँ कि पूरा परिवार

एक साथ बैठकर मेरे कॉन्टेंट का लुत्फ उठा सके। यह मेरे सफर की शुरुआत है, और मैं नए विचारों के माध्यम से अपने

फॉलोअर्स का मनोरंजन करने के उद्देश्य से बड़ी मात्रा में कॉन्टेंट की पेशकश करने के लिए तत्पर हूँ।"

रिस्की रिकी अपने चैनल के माध्यम से नए स्थानों को कवर करते हैं। दर्शक उनके नई जगहों वाले रोमांचक कॉन्टेंट का

इंतजार करते हैं, जो उनके जुनून और रोमांच की कहानी बयाँ करते हैं। वे उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर के रहने वाले हैं और

अपने कॉन्टेंट के माध्यम से अपने क्षेत्र से दर्शकों को रूबरू कराने पर गर्व महसूस करते हैं।

Popular posts
मिलिए एंडटीवी के 'हप्पू की उलटन पलटन' की नई दबंग दुल्हनिया 'राजेश' उर्फ ​​गीतांजलि मिश्रा से!
Image
एण्डटीवी की नई प्रस्तुति ‘अटल‘ अटल बिहारी वाजपेयी के बचपन की अनकही कहानियों का होगा विवरण्
Image
"मैं अपने किरदार से गहराई से जुड़ा हूं क्योंकि उसी की ही तरह मैं भी कम शब्दों में बहुत कुछ कह देता हूं" ज़ी थिएटर के टेलीप्ले 'तदबीर' में वे एक पूर्व सेना अधिकारी की भूमिका निभा रहे हैं
Image
वार्ड क्रमांक 53 के पार्षद कोरोना कॉल में कर रहे जरूरतमंदों की लगातार मदद।
Image
हर जुबां पर बुंदेली ज़ायके का स्वाद चढ़ाने आ रहा बुंदेली शेफ सीजन-2 18 से 45 वर्ष तक की बुंदेली महिलाएं ले सकती हैं हिस्सा प्रतियोगिता में देश के किसी भी कोने से ले सकते हैं भाग बुंदेली शेफ विजेता को मिलेंगे 50 हजार रुपये तक के आकर्षक उपहार
Image