किसानों के साथ धोखाधड़ी करने वाले सांवरिया ट्रेडर्स के मालिक व तुलावटी के खिलाफ धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज।


उज्जैन बुधवार को कृषि उपज मंडी तराना में सांवरिया ट्रेडर्स के मालिक दिनेश बोड़ाना एवं तुलावटी कमल के द्वारा किसानों की उपज कम तोलने के मामले में किसानों ने मंडी परिसर में व्यापारी के खिलाफ हंगामा खड़ा कर दिया । सूचना मिलने पर  एसडीएम गोविंद दुबे एवं मंडी सचिव विजय मरमट मौके पर पहुंचे  और  पंचनामा बनाकर कर जांच का आश्वासन दिया ।
तब कहीं जाकर किसानो का गुस्सा शांत हुआ बताया जाता है कि गुरुवार को थाना तराना पर सांवरिया ट्रेडर्स के मालिक आरोपी दिनेश बोडाना प्रोपराइटर और तुलावटी कमल  के विरुद्ध कृषक धर्मेंद्र ,अर्जुन आदि निवासी झिरनिया के द्वारा रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी।इस पर थाना तराना में अपराध क्रमांक 101 /20धारा 420 आईपीसी का प्रकरण दर्ज कर विवेचना में लिया गया था ।पुलिस द्वारा मामले में की गई कार्यवाही के बाद मंडी के अन्य व्यापरियों एवं तुलावटियों हडकम्प सा मच गया ।


Popular posts
मध्य प्रदेश विपणन संघ और परिवहन एजेंसी की लापरवाही उजागर
Image
नए अध्ययन में सामने आया कि भारत में हर 10 में से 9 ग्राहक सुरक्षा रेटिंग वाली कार खरीदना चाहते हैं इस सर्वे को स्कोडा ऑटो इंडिया ने कमीशन किया और एनआईक्यू बेसेस ने पूरा किया। भारत में 92 प्रतिशत ग्राहक क्रैश के लिए टेस्ट की गई और सेफ्टी रेटिंग की कार चाहते हैं। 47.6 प्रतिशत भारतीय कार में अन्य विशेषताओं से ज्यादा महत्व सुरक्षा को देते हैं। कार खरीदने के निर्णय में क्रैश-रेटिंग प्राथमिकताओं की सूची में सबसे ऊपर है। कार खरीदने के निर्णय में फ्यूल एफिशियंसी तीसरे स्थान पर है। 91 प्रतिशत का मानना है कि सुरक्षा विशेषताओं के आधार पर कारों को प्रोत्साहन देना काफी प्रभावशाली होगा। बच्चों/पीछे की सीट पर बैठे लोगों के लिए पृथक सुरक्षा रेटिंग को लेकर केवल 30 प्रतिशत ग्राहक जागरुक हैं। कार खरीदने के लिए सबसे पसंदीदा क्रैश रेटिंग 5-स्टार क्रैश रेटिंग है।
Image