बड़नगर के ग्राम सारोला मैं जुगाड़ से बनी नाव पलटी

लोगों की सतर्कता के चलते बड़ा हादसा टला।



नाव में करीब 10 लोग थे सवार थे सभी की जान बचाई गई 

बडनगर तहसील के ग्राम सारोला में चामला नदी में लोगों को पार कराने के लिए जुगाड़ से बनी नाव  है  ।

शनिवार को ग्राम सारोल के करीब दर्जनभर ग्रामीण नदी के उस पार व्हाट्सएप बनी नाव पर सवार होकर वैवाहिक कार्यक्रम में शामिल होने जा रहे थे  । 

दूसरे छोर से रस्सी खींचने में नौकर बैलेंस बिगड़ने के कारण डगमगा कर नाव पलट गई  । 9 में ज्यादातर लोग इसमें तैराक होने से कोई बड़ा हादसा घटित नहीं हुआ । गांव में कुछ बच्चे जरूरत है  जितने लोगों ने  बचा लिया गया। पर प्रशासन को भी  इस घटना से सबक लेना चाहिए क्योंकि इस गांव की 20% आबादी नदी के उस पार है जहां लोगों को नदी में पानी होने के कारण इस जुगाड़ की नाव से ही जाना पड़ता है और यहां पर अभी तक कोई पुल निर्माण नहीं हुआ है किसानों को भी यहां काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है बडनगर मंडी पहुंचने के लिए उन किसानों को जो सीधी दूरी मात्र 15 किलोमीटर है वह दूरी 35 किलोमीटर ग्राम अमला से घूमते हुए आना पड़ता है 

ग्रामीणों ने कई दफा प्रशासन व जनप्रतिनिधियों से पुल के निर्माण के लिए आग्रह किया लेकिन अभी तक किसी ने इस ओर ध्यान नहीं दिया  घटना के बाद जब हमारे संवाददाता ने एसडीएम डॉ योगेश तुकाराम भरसट से बात की तो उन्होंने बताया कि ग्रामीणों की काफी दिनों से पुल निर्माण की मांग थी मैं शासन से इसके लिए मांग रखूंगा और जल्द पुल निर्माण करेंगे और उन्होने बताया  कि घटना में सभी लोग सुरक्षित हैं