“मैं सोनी सब के किसी भी शो को मना नहीं कर सकता’’ यह कहना है ‘जीजाजी छत पर कोई है’ के नन्हे उर्फ जीतू शिवहरे का



1. इस शो को हां करने की क्याक वजह रही? सोनी सब के साथ दोबारा जुड़कर कैसा लग रहा है?

मैं सोनी सब के शो के लिये कभी इनकार नहीं कर सकता और मैंने पहले जिस तरह की भूमिकाएं निभायी हैं, उससे यह किरदार काफी अलग है। एक हिट भूमिका निभाने के बाद मुझे ऐसा लगता है कि लोगों को खुद को चुनौती देते रहना चाहिये और नई चीजों के साथ प्रयोग करते रहना चाहिये। एडिट II प्रोडक्शचन के कई सारे शोज़ हिट रहे हैं। यहां काम करने का माहौल और इस शो के जरिये अपने पुराने दोस्तोंक के साथ दोबारा काम करने का मौका मिलना मुझे बड़ा लुभावना लगा। सोनी सब पहले से ही मेरे घर जैसा है और अब वह मेरा परिवार बन गया है। हम सेट पर खूब मस्तीस करते हैं। 


सोनी सब से मेरा पुराना नाता रहा है और मुझे ऐसा लगता है कि टीवी इंडस्ट्री  के बेहतरीन एक्टरर्स के लिये एक अच्छास प्लेनटफॉर्म भी है। यह वो जगह है जहां बतौर कलाकार मेरा हुनर निखरा है। इसलिये यहां से मेरा रिश्ताछ मां और बच्चे  की तरह है। 


2.इस शो को क्या  चीज अलग बनाती है? कॉमेडी के साथ मिस्ट्री  के मेल को लेकर आपका क्याि कहना है?

इस शो में मिस्ट्री् के साथ कॉमेडी का मेल किया गया है, लेकिन इससे बच्चेट डरेंगे नहीं, बल्कि उन्हें  तो मजा आयेगा। इसका मकसद ही है सीपी 2 (मिस्ट्री  गर्ल) को हर बच्चेे की ड्रीम-घोस्ट  बनाना, ताकि बच्चेट उससे डरें नहीं बल्कि उसकी तरफ और खिंचे चले आयें। इस किरदार के लिये जिस तरह की अपेक्षाएं थीं, हिबा उस पर पूरी तरह से खरी उतरी हैं। मुझे ऐसा लगता है कि किसी भी शो का रोमांच ही लोगों को बांधे रखता है और ‘जीजाजी छत पर कोई है’ के सारे कलाकारों के सामने यही चुनौती है। सभी कलाकारों समेत मेरे कंधों पर भी इस शो को हिट करने की जिम्मे दारी है, क्यों कि टीवी इंडस्रीसभ  में कॉमेडी के साथ मिस्ट्री  जोनर का मेल कुछ अलग है। अभी तक हमें ज्यािदातर लोगों से अच्छीस प्रतिक्रियाएं ही मिली हैं। मुझे लगता है कि सोनी सब की तरफ से दर्शकों के लिये यह शो मनोरंजन का पूरा पैकेज है। 


3. ‘जीजाजी छत पर कोई है’ से दर्शकों को क्यार उम्मीजद करनी चाहिये?

इस शो का पहला सीजन सबको बहुत पसंद आया था और फिर से उसी को दोहराना सही नहीं था। इसलिये, पूरी प्रोडक्श न टीम ने उन्हीं  कलाकारों के साथ कुछ नया करने का सोची और मैं कह सकता हूं कि इस शो के नाम के अलावा, इससे जुड़ी सारी चीजें पहले से अलग हैं। टीम का हर व्यसक्ति इस प्रयोग को सफल बनाने के लिये दिन-रात मेहनत कर रहा है। 


4.अपने किरदार के बारे में कुछ बतायें। 

नन्हेद का मेरा किरदार पुरानी दिल्ली  में रहने वाले व्याक्ति का है, जिसकी वही पुरानी सोच है। वह जन्मन से ही वही काम करता आ रहा है लेकिन उससे कभी उसका मन नहीं ऊबा। उसने कभी कुछ अलग करने के बारे में नहीं सोचा। 


इस शो में मेरे किरदार का लुक और बोलने का तरीका भी बिलकुल अलग है और मैं टीम द्वारा की गई कोशिशों से बहुत खुश हूं। 


5.एक ऐसे शो का हिस्साक बनना जिसके पहले से ही इतने सारे प्रशंसक है,क्याय थोड़ा दबाव महसूस हुआ था?

मुझे लगता है कि एक्ट?र्स को दबाव नहीं लेना चाहिये, इसलिये मुझे ऐसा कोई दबाव महसूस नहीं हुआ, ना तो मेरी तरफ से और ना ही टीम की तरफ से। मेरे दिमाग में बस एक ही बात थी कि मुझे टीम के साथ ऐसे मिलकर काम करना है, जिससे हम दर्शकों को एक अच्छाि शो दे पायें। 


चाहे मैं अनूप जी की बात करूं या फिर पूरी टीम की, जब भी मुझे नन्हेि के अपने किरदार में ढलने के लिये मदद की जरूरत पड़ी, उन्होंरने मेरा पूरा साथ दिया। पूरी टीम ने नन्हेट का किरदार तैयार करने में काफी मेहनत की है, जोकि काफी अलग है और यह निश्चित रूप से शो के लिये फायदेमंद साबित होगा। 


6. अपने नये को-स्टागर्स के साथ शूटिंग का अब तक का अनुभव कैसा रहा है?

इतने बेहतरीन को-स्टागर्स के साथ काम करना कमाल का अनुभव है। भले ही उनमें से कई नये को-स्टानर भी हैं लेकिन उनमें से ज्या दातर मेरे पुराने दोस्तस हैं। चाहे अनूप उपाध्याहय हों, सुचेता खन्नास आदि। सेट पर हम सब काफी मेहनत करते हैं और जब भी हम शूटिंग कर रहे होते हैं बिलकुल घर जैसा महसूस होता है। हिबा नवाब और शुभाशीष के साथ भी वैसा ही अपनापन लगता है। 


7. आपके किरदार की सबसे खास बात क्या  है जिसकी वजह से दर्शक नन्हेै को पसंद करने लगेंगे?

मेरे किरदार में कुछ ऐसा अनूठापन है जिसे लोग जरूर पसंद करेंगे। मेरे पिछले किरदार गधा प्रसाद को दर्शकों ने बहुत पसंद किया था। इसलिये मैं इस किरदार को लेकर ज्यापदा सतर्क था कि इसे और भी अच्छीन तरह निभाना है। इस शो में अलग-अलग किरदारों के अपने-अपने तकियाकलाम हैं, जो दर्शकों का ध्याचन अपनी तरफ खींच रहे हैं। 


8.अपने दर्शकों को कोई मैसेज देना चाहेंगे।

सोनी सब के शोज़ हमेशा से ही अपने दर्शकों को मैसेज देते आये हैं कि खुश रहें और स्व स्थर रहें। ‘जीजाजी छत पर कोई है’ में भी एक मैसेज है और मुझे ऐसा लगता है कि अभी के हालात में खुश रहना बहुत जरूरी है। तो मैं अपने सभी फैन्से से गुजारिश करना चाहूंगा कि यह शो देखते रहें और यूं ही इसे अपना प्याजर देते रहें। 


देखिये, जीतू शिवहरे को नन्हेा के किरदार में, सोनी सब के ‘जीजाजी छत पर कोई है’ में, 

हर सोमवार से शुक्रवार रात 10 बजे