इस हफ्ते, एण्डटीवी के शोज में होगी प्यार, तकरार और इमोशंस की बौछार




एण्डटीवी के शोज़ ने हफ्ते दर हफ्ते, दर्शकों को उनके टेलीविजन स्क्रीन्स से जोड़े रखा है। इन शोज़ की रोचकता, जिज्ञासा और हंसी की बौछार की वजह से दर्शक बार-बार यहां आते हैं। ईद का चांद आए या ना आए, मिश्रा और मिर्जा की टक्कर चलती रहेगी। और भई क्या चल रहा है? में मिर्जा और मिश्रा हवेली पर अपना मालिकाना हक पाने के लिए आपस में लगातार झगड़ते रहते हैं। ईद आने वाली है ऐसे में इन दोनों पड़ोसियों के बीच फिर से अनबन हो गयी है और दोनों एक-दूसरे को पछाड़ने की कोशिश कर रहे हैं। साथ ही एक-दूसरे से कॉम्पिटशन कर रहे हैं कि किसकी ईद बेहतर है, क्या उनकी यह नोंक-झोंक उनकी ईद को बर्बाद कर देगी? भाबीजी घर पर हैं में आया विभूति (आसिफ शेख) बनकर तानसेन जो करें बरसात लेकिन हंसी की। यह पता लगने पर अंगूरी भाबी को क्लासिकल बहुत पसंद है, विभूति अंगूरी भाबी(शुभांगी अत्रे) को प्रभावित करने के लिए इस अवसर में कूद जाता है और उस्ताद से सीखना शुरू कर देता है। हप्पू की उलटन पलटन के आगामी ट्रैक में, रितिक (आर्यान प्रजापति) एक डॉक्टर बनने की इच्छा के साथ क्लास में लगातार अपनी विफलता को छुपाने की कोशिश करता है। उसका परिवार उसके इस सपने को पूरा नहीं कर सकता, फिर भी वह लगातार फेल हो रहा है। भावुक हप्पू सिंह और उसका परिवार उसके सपने को सच करने के लिए अलग-अलग तरह के काम करने लगते हैं। हालांकि, संतोषी मां सुनाएं व्रत कथाएं में बबली(तन्वी डोगरा) की शैतान बबली, स्वाति और उसके परिवार को परेशान करने के लिए वापस लौट आई है। लेकिन क्या वह इंद्रेश(आशीष कादियान) को हासिल कर पायेगी और उसे अपना पति बना पाएगी?


और भई क्या चल रहा है के आगामी ट्रैक पर पवन सिंह उर्फ जफर अली मिर्जा कहते हैं, ईद का त्यौहार मिर्जा के नाम ही होगा। इस ईद, मिर्जा परिवार किसी भी अवसर में खुद को आगे रखने के लिए बिलकुल तैयार है। बात मुकाबले की है और मिर्जा इतनी आसानी से हार मानने वालों में से नहीं है। बिना किसी खर्चे के, यह परिवार पूरे उत्साह के साथ हवेली को सजायेगा यानी पूरी हवेली को, सिर्फ मिर्जा के तरफ वाली नहीं। जब मिश्रा परिवार के पैसे चोरी हो जाते हैं तो मिर्जा आगे आकर एक नेक काम करता है और ईद का उनका सारा बिल भर देता है। लेकिन बदले में क्या मिश्रा और मिर्जा के बीच की यह दहलीज पार हो पायेगी?क्या इस ईद होगी दहलीज पार? भाबीजी घर पर हैं के आगे आने वाले ट्रैक पर, आसिफ शेख,उर्फ विभूति नारायण मिश्रा ने कहा,‘‘अंगूरी भाबी को खुश करने के चक्कर में हो गई भूल। तिवारी द्वारा आयोजित की गई महफिल में, विभूति लड़की पटाओ राग की बजाय लड़की भगाओ राग गा देता है। जिसकी वजह से अंगूरी भाबी का गुस्सा बेकाबू हो जाता है। तिवारी जी(रोहिताश्व गौर)कैसे अंगूरी भाबी का गुस्सा काबू कर उन्हें असल रूप में लाएंगे? कैसे एक गलत राग गा के उन्हें लुभाने की कोशिश करेंगे?मुझे नहीं पता कि विभूति की किस्मत में क्या है, लेकिन दर्शक इस कॉमेडी और गलतियों का पूरा आनंद लेंगे।‘‘ ‘हप्पू की उलटन-पलटन‘ में आगे क्या होगा इस बारे में योगेश त्रिपाठी उर्फ दरोगा हप्पू सिंह कहते हैं, ‘‘एक पिता अपने बच्चे के सपनों को पूरा करने के लिए किसी भी हद तक जा सकता है, लेकिन अगर बच्चा झूठ बोलता है, तो उसका अंजाम बहुत बुरा हो सकता है। इस बार, राजेश(कामना पाठक) और यहां तक कि पूरी पलटन रितिक के सपने को पूरा करने में मदद करने के लिए अलग-अलग तरह का काम करने लगते हैं। चूंकि, रितिक बहुत बड़ा मसखरा है, वह अपने पूरे परिवार को अपने झूठे सपने को पूरा करने करने के लिये अलग-अलग काम में लगा देता है। हप्पू की क्या प्रतिक्रिया होगी जब उसे ये पता लगेगा कि यह सब एक झूठ था? तन्वी डोगरा, उर्फ बबली कहती हैं, ‘‘जहर के धुएं से भरे कमरे में स्वाति को बंद करने के बाद, मौत के मुंह से वापस लौटकर आयी बबली, स्वाति के रूप में आ जाती है। वह इंद्रेश से अपना प्यार जाहिर करवाने के लिये उसे अपनी मांग में सिन्दूर भरने के लिए मना लेती है। क्या इंद्रेश बबली को पहचान पाएगा और उसके दुष्ट इरादों के बारे में जान पाएगा या फिर अनजाने में बबली से शादी कर लेगा?‘‘



बहुत सारी मस्ती और ड्रामा देखने के लिए हमारे साथ जुड़े रहें और देखते रहिये संतोषी मां सुनाएं व्रत कथाएं रात 9 बजे, और भई क्या चल रहा है? रात 9:30 बजे, हप्पू की उलटन पलटन रात 10 बजे और भाबीजी घर पर हैं‘, रात 10:30 बजे, हर सोमवार से शुक्रवार सिर्फ एण्डटीवी पर