प्रेस कॉन्फ्रेंस में पीआर संचालक के साथ हुई हाथापाई पर पीआर संगठन ने की निंदा



जबलपुर से दिल्ली, मुंबई और इंदौर के लिए तीन नई हवाई सेवाएं शुरू की गई हैं। बीते दिन जबलपुर में इस हेतु प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन किया गया था, जिसमें शहर की एक पीआर एजेंसी के साथ ही भाजपा के कई कार्यकर्ता मौजूद थे। मीडिया के साथ हुई झड़प के चलते पीआर एजेंसी के संचालक पर जो हाथापाई की गई, वह निंदनीय है। 


पीआर एजेंसी की भूमिका मीडिया तथा क्लाइंट के बीच समन्वय स्थापित करना होता है। क्लाइंट तथा मीडिया के बीच हुई झड़प में पीआर एजेंसी को दोष देना कतई सही नहीं है। इतना ही नहीं मौजूदा स्थान पर पीआर एजेंसी के अहम् सदस्य के साथ हाथापाई किया जाना सरासर गलत है। समस्त पीआर संगठन इसकी निंदा करता है।

Popular posts
मध्य प्रदेश विपणन संघ और परिवहन एजेंसी की लापरवाही उजागर
Image
नए अध्ययन में सामने आया कि भारत में हर 10 में से 9 ग्राहक सुरक्षा रेटिंग वाली कार खरीदना चाहते हैं इस सर्वे को स्कोडा ऑटो इंडिया ने कमीशन किया और एनआईक्यू बेसेस ने पूरा किया। भारत में 92 प्रतिशत ग्राहक क्रैश के लिए टेस्ट की गई और सेफ्टी रेटिंग की कार चाहते हैं। 47.6 प्रतिशत भारतीय कार में अन्य विशेषताओं से ज्यादा महत्व सुरक्षा को देते हैं। कार खरीदने के निर्णय में क्रैश-रेटिंग प्राथमिकताओं की सूची में सबसे ऊपर है। कार खरीदने के निर्णय में फ्यूल एफिशियंसी तीसरे स्थान पर है। 91 प्रतिशत का मानना है कि सुरक्षा विशेषताओं के आधार पर कारों को प्रोत्साहन देना काफी प्रभावशाली होगा। बच्चों/पीछे की सीट पर बैठे लोगों के लिए पृथक सुरक्षा रेटिंग को लेकर केवल 30 प्रतिशत ग्राहक जागरुक हैं। कार खरीदने के लिए सबसे पसंदीदा क्रैश रेटिंग 5-स्टार क्रैश रेटिंग है।
Image