फ्रैंकलिन टेम्पलटन मध्य प्रदेश में फ्रैंकलिन इंडिया बैलेंस्ड एडवांटेज फंड (FIBAF) कर रहे हैं लॉन्च • FIBAF का लक्ष्य फ्रैंकलिन टेम्पलटन के इन-हाउस प्रोप्रिटेरी डायनामिक अस्सेस्ट एल्लोकेशन मॉडल से प्राप्त, दोनों दुनिया के सर्वश्रेष्ठ को जोड़ना है • फ्रैंकलिन टेम्पलटन के लिए मध्य प्रदेश एक प्रमुख ग्रोथ मार्केट है, जिसका उद्योग एयूएम इंदौर, भोपाल, जबलपुर और ग्वालियर सहित अन्य जैसे शहरों में लगभग ५२,000 करोड़ रूपए का है



इंदौर, अगस्त 0८, 2022: फ्रैंकलिन टेम्पलटन (भारत) मध्य प्रदेश में फ्रैंकलिन इंडिया बैलेंस्ड एडवांटेज फंड (FIBAF) नामक एक ओपन-एंडेड डायनेमिक एसेट एलोकेशन फंड लॉन्च कर रहा है। फंड का उद्देश्य इक्विटी और इक्विटी से संबंधित उपकरणों तथा निश्चित आय और मुद्रा बाजार उपकरणों के गतिशील रूप से प्रबंधित पोर्टफोलियो में निवेश करके दीर्घकालिक पूंजी वृद्धि और आय का सृजन करना है।

फ्रैंकलिन टेम्पलटन का मानना है कि मध्य प्रदेश में म्यूचुअल फंड के विकास की प्रबल संभावना है, क्योंकि नए निवेशक ट्रेडिशनल अश्योर्ड रिटर्न प्रोडक्ट्स से घटते रिटर्न के बाद निवेश के वैकल्पिक तरीकों को देखते हैं। फंड हाउस मध्य प्रदेश में अपने डिस्ट्रीब्यूटर नेटवर्क को बढ़ाने को लेकर कार्यरत है। इसका उद्देश्य अधिक से अधिक निवेशकों को म्यूचुअल फंड निवेश के लाभों के बारे में अवगत कराना है। मध्य प्रदेश में म्यूचुअल फंड उद्योग की प्रबंधनाधीन संपत्ति वर्तमान में लगभग ५२,000 करोड़ रूपए है, जो इंदौर, भोपाल, जबलपुर और ग्वालियर सहित अन्य जैसे प्रमुख शहरों में फैली हुई है; और मध्यम से लंबी अवधि में एक्सपोनेंशियल ग्रोथ के लिए तैयार है।

FIBAF अपनी निवेश जरूरतों के लिए 'वन-स्टॉप' समाधान चाहने वाले निवेशकों के लिए एक विवेकपूर्ण विकल्प है, क्योंकि यह बाजार मूल्यांकन और मौलिक कारकों-संचालित विचारों के आधार पर इक्विटी और ऋण के बीच सामरिक आवंटन प्रदान करता है। यह प्रोडक्ट उन निवेशकों के लिए उपयुक्त है, जो न केवल इक्विटी में वृद्धि के अवसरों का लाभ उठाने के इच्छुक हैं, बल्कि बाजार की अस्थिरता के प्रभाव को कम करना भी पसंद करते हैं। नया फंड ऑफर 16 अगस्त, 2022 को खुलेगा और 30 अगस्त, 2022 को बंद हो जाएगा, जिसके दौरान इकाई 10/- रुपये प्रति इकाई की दर से उपलब्ध होंगी।

फंड के लॉन्च पर बोलते हुए, फ्रैंकलिन टेम्पलटन-इंडिया के अध्यक्ष अविनाश सतवालेकर ने कहा, “हम एक और विविध निवेश पेशकश लाने के लिए उत्साहित हैं, जो मध्य प्रदेश में जो निवेशकों को बदलते बाजारों के माध्यम से सरल और कुशल तरीके से नेविगेट करने में मदद करता है। हम भारत में विकास के एक नए अध्याय को शुरू करने के लिए उत्सुक हैं, और FIBAF का शुभारंभ इस दिशा में पहला है।


“यह नया फंड उन निवेशकों के लिए है जो लंबी अवधि में इक्विटी और डेट में संतुलित निवेश करना चाहता हैं, साथ ही समय-समय पर बाजार द्वारा प्रदान किए गए अवसरों का भी फायदा उठाना चाहता हैं। विविधीकरण के लाभों के अतिरिक्त, यह सूत्र-चालित दृष्टिकोण अपने अंतर्निर्मित 'खरीद-बिक्री' अनुशासन के साथ लालच और भय की भावनाओं के कारण होने वाले व्यवहारिक पूर्वाग्रहों को नकारने में मदद करता है।"


फंड लॉन्च पर टिप्पणी करते हुए, आनंद राधाकृष्णन, प्रबंध निदेशक और मुख्य निवेश अधिकारी - इमर्जिंग मार्केट्स इक्विटी इंडिया, फ्रैंकलिन टेम्पलटन ने कहा, “हाल के महीनों में वैश्विक इक्विटी बाजारों में सुधार हुआ है और मुद्रास्फीति, ब्याज दर और चल रहे भू-राजनीतिक तनाव के कई विपरीत परिस्थितियों के बीच अस्थिर बना हुआ है।

भारतीय बाजार भी प्रभावित हुए हैं लेकिन प्रमुख विकसित और ईएम समकक्षों (डॉलर के संदर्भ में) की तुलना में काफी बेहतर रहे हैं। बाजार में उतार-चढ़ाव के ऐसे प्रकरण निवेशकों को गलत दिशा में ले जा सकते हैं, जिससे वे उप-इष्टतम निर्णय लेने के लिए प्रेरित हो सकते हैं। इसे ध्यान में रखते हुए, फ्रैंकलिन इंडिया बैलेंस्ड एडवांटेज फंड इक्विटी आवंटन के लिए फ्लेक्सी-कैप दृष्टिकोण अपनाएगा। यह योजना उच्च गुणवत्ता वाले उपकरणों में निवेश करने का प्रयास करेगी, जिसमें 80% से अधिक निश्चित आय पोर्टफोलियो AAA-रेटेड कागजात में होंगे। यह दोनों दुनिया के सर्वश्रेष्ठ की तलाश करने वाले निवेशकों के लिए उपयुक्त बनाता है।

वे आगे कहते हैं, "एसेट एलोकेशन फ्रैंकलिन टेम्पलटन के इन-हाउस प्रोप्राइटरी डायनेमिक एसेट एलोकेशन मॉडल और फ्लेक्सी-कैप पोर्टफोलियो के समान एक सक्रिय स्टॉक चयन प्रक्रिया से लिया गया है। हमें विश्वास है कि इससे निवेशकों को लंबी अवधि में निवेशित रहने में सक्षम बनाकर उनके परिणामों में सुधार करने में मदद मिलेगी।

फंड की रणनीति पर बोलते हुए, के राजासा, वीपी और पोर्टफोलियो मैनेजर- फ्रैंकलिन इंडिया बैलेंस्ड एडवांटेज फंड, ने कहा, “FIBAF एक गतिशील रूप से प्रबंधित फंड और एक संपूर्ण पोर्टफोलियो समाधान है। FIBAF का समर्थन करने वाली एसेट एलोकेशन रणनीति को इनपुट उपयोग और परिसंपत्ति पुनर्संतुलन की आवधिकता के लिए सफलतापूर्वक अनुकूलित किया गया है। सकल इक्विटी एक्सपोजर को 65% से 100% के बीच बनाए रखने का उद्देश्य है। किसी भी समय, यदि इक्विटी आवंटन 65% से कम हो जाता है, तो इक्विटी डेरिवेटिव का उपयोग करके सकल इक्विटी एक्सपोजर को बनाए रखा जाएगा। बाकी के लिए डेट साधन तैयार होंगे। यदि इक्विटी परिसंपत्ति वर्ग के लिए आवंटन, वर्ष के लिए 65% से अधिक है, तो फंड इक्विटी कराधान के लिए योग्य है।

उन्होंने आगे विस्तार से कहा, "हम इक्विटी अस्सेस्ट एलोकेशन को निर्धारित करने के लिए मात्रात्मक और गुणात्मक कारकों के संयोजन का उपयोग करेंगे। मात्रात्मक पैरामीटर महीने के अंत भारित औसत मूल्य का कमाई (पी/ई) से  अनुपात और निफ्टी 500 इंडेक्स के मूल्य का बुक वैल्यू P/BV  से अनुपात पर आधारित होगा। अनुपात बैंड के अनुसार, (P/E) और P/BV दोनों के लिए अलग-अलग इक्विटी आवंटन की पहचान की जाएगी। इन मापदंडों में से प्रत्येक को 50% वेटेज दिया जाएगा और अंतिम इक्विटी आवंटन तक पहुंचने के लिए जोड़ा जाएगा। हम विभिन्न कारकों जैसे व्यापक आर्थिक रुझान, नीति पृष्ठभूमि, समग्र कॉर्पोरेट बुनियादी बातों, बाजार तरलता मॉडल आदि के गुणात्मक मूल्यांकन के साथ मात्रात्मक पैरामीटर-आधारित इक्विटी आवंटन को भी ओवरले करेंगे।

Popular posts
मिलिए एंडटीवी के 'हप्पू की उलटन पलटन' की नई दबंग दुल्हनिया 'राजेश' उर्फ ​​गीतांजलि मिश्रा से!
Image
एण्डटीवी की नई प्रस्तुति ‘अटल‘ अटल बिहारी वाजपेयी के बचपन की अनकही कहानियों का होगा विवरण्
Image
"मैं अपने किरदार से गहराई से जुड़ा हूं क्योंकि उसी की ही तरह मैं भी कम शब्दों में बहुत कुछ कह देता हूं" ज़ी थिएटर के टेलीप्ले 'तदबीर' में वे एक पूर्व सेना अधिकारी की भूमिका निभा रहे हैं
Image
वार्ड क्रमांक 53 के पार्षद कोरोना कॉल में कर रहे जरूरतमंदों की लगातार मदद।
Image
हर जुबां पर बुंदेली ज़ायके का स्वाद चढ़ाने आ रहा बुंदेली शेफ सीजन-2 18 से 45 वर्ष तक की बुंदेली महिलाएं ले सकती हैं हिस्सा प्रतियोगिता में देश के किसी भी कोने से ले सकते हैं भाग बुंदेली शेफ विजेता को मिलेंगे 50 हजार रुपये तक के आकर्षक उपहार
Image