Booking.com अब हिन्दी में भी उपलब्ध



15 फ़रवरी, 2023: दुनिया की सबसे जानी-मानी डिजिटल ट्रैवल कंपनियों में से एक, Booking.com ने आज अपने प्लेटफ़ॉर्म पर हिन्दी भाषा को शामिल कर लिया है ताकि लोगों के लिए देश-दुनिया का अनुभव लेना और भी ज़्यादा आसान बन सके. Booking.com का हिन्दी वर्शन उनके सभी प्लेटफ़ॉर्म – मोबाइल, वेब, iOS और Android ऐप पर उपलब्ध होगा जिससे दुनिया भर के हिन्दी-भाषी लोग इसका आसानी से इस्तेमाल कर पाएंगे. यात्री अब अपनी पसंदीदा भाषा में सभी जानकारी पढ़ सकते हैं, डील और छूट खोज सकते हैं, अपनी बुकिंग देख सकते हैं और अपने अकाउंट मैनेज करने के साथ-साथ और बहुत सी चीज़ें आसानी से कर सकते हैं.


हिन्दी को शामिल करने के साथ Booking.com अब दुनिया भर की 46 भाषाओं और बोलियों में उपलब्ध है, जिससे ऐसे यात्री जो अपनी भाषा में देश-दुनिया को एक्सप्लोर करना चाहते हैं, उनके लिए यह एक ऐसा अनुभव बन जाता है जो उन्हें अपनापन महसूस कराता है और यही इसकी खासियत है.


हिन्दी में Booking.com का अनुभव लेने के लिए यूज़र को अपने अकाउंट में: Manage Account > Preferences > Languages में जाकर अपनी भाषा को बदलना होगा


Booking.com के प्रॉपर्टी पार्टनर्स, एक्स्ट्रानेट और Pulse ऐप (iOS और Android दोनों लिए) के हिन्दी में लॉन्च होने पर अब अपनी प्रॉपर्टी की सभी ज़रूरी जानकारी को अपनी पसंदीदा भाषा में देख और मैनेज कर पाएंगे. साथ ही, और बड़े यात्री वर्ग से अपनी स्थानीय भाषा में जुड़ पाएंगे.


संतोष कुमार, (Booking.com में भारत, श्रीलंका, मालदीव और इंडोनेशिया के कंट्री मैनेजर), कहते हैं कि “ट्रैवल करने पर लागू किए गए प्रतिबंधों के कम होने पर भारत के लोग अब फिर से घूमने-फिरने और दुनिया को एक्सप्लोर करने के लिए उत्सुक हैं. हम यह भी देख रहे हैं कि साल दर साल भारत में डॉमेस्टिक ट्रैवल करने वाले लोगों की तादात बढ़ती जा रही है. Booking.com में हमारी हमेशा से यही कोशिश रही है कि हम लगातार ऐसे नए तरीकों की खोज करें जिससे हम ट्रैवल करने में लोगों को होने वाली दिक्कतों को कम कर पाएं. हमारे प्लेटफ़ॉर्म पर हिन्दी भाषा को शामिल करना इस बात का एक उम्दा उदाहरण है कि हम न सिर्फ़ यात्रियों के अनुभव को बेहतर बनाना चाहते हैं पर साथ ही, हम हमारे पार्टनर्स की भी मदद करना चाहते हैं ताकि वे और भी बड़े यात्री वर्ग से जुड़ पाएं और उन्हें ज़्यादा बेहतर ट्रैवल अनुभव मुहैया करा पाएं. पूरे एशिया पैसिफिक में भारत हमारे लिए एक प्रमुख मार्केट है; और मुझे इस बात का गर्व है कि हम और भी ज़्यादा भारतीय उपभोक्ताओं के लिए घूमने-फिरने की जगहें खोजना और बुक करना आसान बना पाएं हैं.”


Popular posts
मध्य प्रदेश विपणन संघ और परिवहन एजेंसी की लापरवाही उजागर
Image
नए अध्ययन में सामने आया कि भारत में हर 10 में से 9 ग्राहक सुरक्षा रेटिंग वाली कार खरीदना चाहते हैं इस सर्वे को स्कोडा ऑटो इंडिया ने कमीशन किया और एनआईक्यू बेसेस ने पूरा किया। भारत में 92 प्रतिशत ग्राहक क्रैश के लिए टेस्ट की गई और सेफ्टी रेटिंग की कार चाहते हैं। 47.6 प्रतिशत भारतीय कार में अन्य विशेषताओं से ज्यादा महत्व सुरक्षा को देते हैं। कार खरीदने के निर्णय में क्रैश-रेटिंग प्राथमिकताओं की सूची में सबसे ऊपर है। कार खरीदने के निर्णय में फ्यूल एफिशियंसी तीसरे स्थान पर है। 91 प्रतिशत का मानना है कि सुरक्षा विशेषताओं के आधार पर कारों को प्रोत्साहन देना काफी प्रभावशाली होगा। बच्चों/पीछे की सीट पर बैठे लोगों के लिए पृथक सुरक्षा रेटिंग को लेकर केवल 30 प्रतिशत ग्राहक जागरुक हैं। कार खरीदने के लिए सबसे पसंदीदा क्रैश रेटिंग 5-स्टार क्रैश रेटिंग है।
Image