दिनेश शाहरा फाउंडेशन के द्वारा इंदौर में प्रतिदिन महामृत्युंजय पूजा आयोजित की जाती है और हजारों भक्तों को इस चुनौतीपूर्ण कोविड परिस्थिति में आशान्वित रखने के लिए इसे ऑनलाइन प्रसारित किया जाता है।



फाउंडेशन भक्तों से लाइव महामृत्युंजय वर्चुअल पूजा की सेवाओं का लाभ उठाने और भगवान महादेव की कृपा से उर्जावान रहने का आग्रह करता है।

फाउंडेशन ने मध्य प्रदेश और देश के अन्य हिस्सों में जरूरतमंद नागरिकों को ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर सहित खाद्य और चिकित्सा आपूर्ति वितरित करता है।

  

इंदौर, 31 मई 2021: अध्यात्म के क्षेत्र में अग्रसर होते हुए, दिनेश शाहरा फाउंडेशन (डीएसएफ) जनकल्याण हेतु एक ऑनलाइन महा मृत्युंजय पूजा का आयोजन कर रहा है। इंदौर के मंगलिया में शिव मंदिर में समर्पित सभी पदस्थ पुजारियों को इस चुनौतीपूर्ण कोविड परिस्थिति में जनकल्याण हेतु प्रतिदिन मृत्युंजय पाठ करने का कार्य सौंपा गया है। इस पूजा को प्रत्यक्ष या परोक्ष रूप से महामारी से प्रभावित हजारों भक्तों को उर्जान्वित रखने और सामर्थ्य देने के उद्देश्य से डीएसएफ के फेसबुक पेज (@ DineshShahrafoundation) पर हर दिन 'लाइव' स्ट्रीम किया जा रहा है।


फाउंडेशन, मध्य प्रदेश (एमपी) और देश के अन्य हिस्सों में जरूरतमंद नागरिकों को ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर सहित खाद्य और चिकित्सा आपूर्ति के वितरण करके भी अपना योगदान दे रहा है। इस दिशा में, फाउंडेशन राहत सामग्री के त्वरित और प्रभावी वितरण के लिए कई स्थानीय गैर सरकारी संगठनों के साथ समन्वय भी कर रहा है।


महामारी के कारण मवेशियों की आबादी पर भी दवाओं और चारे की कमी का प्रतिकूल प्रभाव देखा गया है। देशी गायों की नस्लों के संरक्षण और संवर्धन के लिए प्रतिबद्ध, डीएसएफ ने विभिन्न गाय स्वास्थ्य शिविर आयोजित किए हैं और 'गौ शक्ति अभियान' को मजबूत किया है। साथ ही किसानों को दुधारू मवेशी दान कर उन्हें आजीविका कमाने में मदद की है।


“डीएसएफ महामारी की इस दूसरी लहर में लोगों की तकलीफों को कम करने में व मूल्यवान जीवन को बचाने में मदद कर गोरवान्वित है।जरूरतमंदों को भोजन और चिकित्सा सहायता प्रदान करने के अलावा, हमारा मानना है कि ईश्वरीय कृपा प्राप्त करने में पूजा अनुष्ठान और मंत्र जाप मददगार होंगे। साथ ही इसके द्वारा लोगों को आवश्यक मानसिक शांति और समर्थन भी मिलेगा। श्री दिनेश शाहरा ने कहा,“ लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग के गहरे संकट में, हम सभी भक्तों से अनुरोध करतें हैं कि वे घर पर ही बैठ कर हमारी लाइव महा मृत्युंजय वर्चुअल पूजा सेवाओं का लाभ उठाकर भगवान महादेव की कृपा से उर्जावान रहें।


उन्होंने आगे कहा, “गौशक्ति अभियान भी हमारे फाउंडेशन का एक अन्य मुख्य प्रयोजन है। महामारी के बाद अर्थव्यवस्था क्षतिग्रस्त होने से हमारे देश में हजारों गायों को निरही छोड़ दिया गया था। इनका अभिग्रहण और उनका पुनर्वास एक मानवीय कारण है जिसके लिए हम पूरी तरह प्रतिबद्ध हैं।" 


दिनेश शाहरा फाउंडेशन की स्थापना में पिछले ५० वर्षों में श्री दिनेश शाहरा द्वारा अर्जित ज्ञान का असीम योगदान है। फाउंडेशन, समाज के भौतिक और आध्यात्मिक उन्नति के लिए उत्तरदायी उन संस्थाओं के लिए कृतज्ञ है जिन्होंने विश्व को सभी के लिए एक बेहतर जगह बनाने में मदद की है। शिक्षा, सतत प्रयास और आध्यात्मिकता फाउंडेशन के मूल उद्देश्य हैं। 2020 में, फाउंडेशन को द इकोनॉमिक टाइम्स (टाइम्स ऑफ इंडिया ग्रुप) द्वारा जनकल्याण में योगदान के लिए उत्कृष्टता पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।

Popular posts
Sustainable Mining: How new technologies are reshaping the mining industry
Image
क्यों हमें सविता जैसी बेटियों के स्वागत की ज्यादा जरुरत है जब एक महिला शिक्षित होती है तो एक राष्ट्र शिक्षित होता है।
Image
*ऑर्बिया के बिल्डिंग एवं इंफ्रास्ट्रेक्चंर बिजनेस वाविन ने वेक्ट्स के साथ साझेदारी की इस सहयोग की मदद से कंपनी भारतीय बाजार को जल एवं स्वीच्छवता समाधानों तक पहुँच प्रदान करेगी*
Image
पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी का चमकौर साहिब से न्यूज़18 इंडिया के मैनेजिंग एडिटर किशोर अजवानी के साथ एक्सक्लूसिव बातचीत:*
Image
10 जनवरी 2022 को 'यूवाह' का इंदौर में शानदार आगाज़ हुआ। यूवाह 14 वर्ष से 19 वर्ष के किशोरों के लिए इंटर्नशिप अवसरों को उपलब्ध करवाता है। यह प्लेटफॉर्म नियोक्ताओं और उम्मीदवारों के बीच एक माध्यम के रूप में कार्य करता है, साथ ही महत्वपूर्ण व्यवसायिक प्रशिक्षण भी प्रदान करता है। संस्थापको ने कहा कि यूवाह एक प्रगतिशील समाज एवं संस्कृति का सारथी बनने में प्रयासरत है।
Image