भारत का पहला कस्टमाइज़्ड आयुर्वेदिक लाइफस्टाइल और वेलनेस ब्रांड, वैदिक्स्, प्रमुख रीजनल बाजारों तक पहुँच बढ़ाने के लिए तैयार है



वैदिक्स् ने टियर II और III शहरों में अपनी पहुँच बढ़ाने के लिए मार्केटिंग पहल शुरू की 

टारगेट मार्केट से जुड़ने के लिए क्षेत्र के सभी प्रभावशाली लोगों के साथ मिलकर कार्य करना

रिज़नल मार्केट से जूड़ने के लिए सोशल मीडिया पर कैंपेन शुरू करना 


हैदराबाद, जुलाई, 2021: भारत का पहला कस्टमाइज़्ड मॉडर्न आयुर्वेदिक लाइफस्टाइल और वेलनेस ब्रांड, वैदिक्स्, इंडिया के सभी प्रमुख रीजनल बाजारों में अपनी स्थिति मजबूत करने के लिए सक्रिय रूप से कार्य कर रहा है। ब्रांड अपनी दोहरी मार्केटिंग स्ट्रैटिजी के द्वारा रीजनल और अंतर्राष्ट्रीय दोनों बाजारों में एक साथ पकड़ मजबूत करने की तैयारी में है। 

हैदराबाद स्थित एक कस्टमाइज्ड आयुर्वेद ब्यूटी टेक स्टार्टअप, वैदिक्स्, हाइपर कस्टमाइज्ड हेयर और स्किन केयर रिजीम डिजाइन कर रहा है, ताकि एआई (AL) और आयुर्वेद दोनों की विशेषताओं का हमारी स्किन और हेयर की समस्याओं में भरपूर फायदा मिल सकें। टेक ब्यूटी ब्रांड हैदराबाद के सबसे बड़े कंज्यूमर टेक स्टार्टअप्स में से एक होने के साथ-साथ 3 वर्षों के भीतर ही अपनी कैटेगरी में अग्रणी हो गया है।

इंकनट के सीईओ और को-फाउन्डर चैतन्य नल्लन ने कहा, “हम एक ऐसे ब्रांड के रूप में बढ़ना चाहते हैं जहां आयुर्वेद को आधारशीला बनाकर हम साइंटिफ़िक और ब्यूटी के सभी क्षेत्रों में कुछ नया करके एक बेहतरीन केयर लोगों तक पहुंचा सकें। हमने अपने कस्टमर्स को हाइपर-पर्सनल देखभाल देने के लिए एक मूल्यांकन प्रक्रिया अपनाई है जो कि 30,000 घंटे से ज्यादा के इन्टेन्सिव रिसर्च, विशेषज्ञों के सहयोग तथा आयुर्वेद, हर्बल अर्क और एसेंशियल ऑइल्स से जुड़ी ऐतिहासिक साक्ष्यों पर आधारित है, जहां मॉडर्न टेक्नोलॉजी को अपनाया गया है और ऑर्गेर्निक इंग्रेडिएंट्स भी प्रचुर मात्रा में मौजूद हैं।”

इंकनट डिजिटल वैदिक्स् ब्रांड का ग्रुप होल्डिंग्स है। 

वैदिक्स् ने पूरे भारत में ग्राहकों तक पहुंच बढ़ाने के लिए D2C और ऑनलाइन मार्केटप्लेस मॉडल का बुद्धिमानी से लाभ उठाकर इंडियन ब्यूटी मार्केट में एक प्रमुख स्थान बनाया है। 2020 में स्किनकेयर रेंज लॉन्च करके यह भारत का पहला स्किनकेयर ब्रांड बन गया, जिसने अच्छी क्वालिटी वाले इंग्रेडिएंट्स से बने 100% फूड ग्रेड नॉनफोमिंग क्लीन्ज़र को लॉन्च किया।

अपनी रीजनल मार्केट स्ट्रैटिजी के बारे में बात करते हुए, वैदिक्स् के बिजनेस हेड, जतिन गुजराती ने कहा, “हमारे लगभग 65% कस्टमर्स भोपाल जैसे बड़े शहरों के साथ-साथ इंदौर, ग्वालियर, जबलपुर जैसे गैर-मेट्रो शहरों में भी स्थित हैं। आयुर्वेद की अच्छाइयाँ सभी को मालूम है, हम भारतीयों की जड़ों तक आयुर्वेद की विशेषताओं को पहुंचाना चाहते हैं ताकि सभी को किफायती मूल्य में सही और आवश्यक सोल्युशंस मिल सकें।

गुजराती पर ग्रोथ स्ट्रैटिजी और रीजनल मार्केट का कार्यभार है, “हम देश में वैदिक्स् को हर घर तक पहुंचाना चाहते हैं। वर्तमान में, हमारी वार्षिक रन रेट 160 करोड़ रुपये से अधिक की है जिसे 2025 तक 500 करोड़ रुपये तक पहुंचाने का लक्ष्य है। इस आशा से कंपनी इस साल प्रमुख रीजनल और अंतरराष्ट्रीय मार्केट में दाखिल होने की योजना बना रही है।”

2017 में इसकी शुरुआत के बाद से, 3 मिलियन कस्टमर्स ने अपने हेयर और स्किन की समस्याओं को गहराई से समझने के लिए व्यक्तिगत प्रश्नावली - VPQ – भरा है। कंपनी के लॉन्च के बाद से एक मिलियन से अधिक ऑर्डर आए हैं और हर महीने लगभग 90,000 नए ग्राहक ब्रांड से जुड़ रहे हैं, जो कि बहुत जल्द लाख होने की राह पर है। वेदिक्स की ग्राहक दर 60% है जो इस इंडस्ट्री के औसत से दोगुना है।

“लगातार फीडबैक लूप और ग्राहक डेटा ने हमें अपनी सुविधाओं को और बेहतर बनाने में मदद की है, जिससे हमें हर व्यक्ति को एक विशेष अनुभव प्रदान करने में मदद मिली है। बाजार में अधिकांश आयुर्वेद प्रोडक्ट में मौजूद इंग्रेडिएंट्स एक निश्चित सेट के बने होते हैं, जबकि वैदिक्स् व्यक्ति की प्रकृति को समझकर उसके लिए उपयुक्त ब्यूटी उपाय लाने की हर संभव प्रयास करता है,” नल्लन ने आगे कहा।

इन्साइटऐस एनालिटिक्स् के अनुसार, पर्सोनलाइज़् कॉस्मेटिक प्रोडक्ट्स का वैश्विक बाजार 2019 में 38 बिलियन डॉलर से बढ़कर 2028 तक 72 बिलियन डॉलर हो जाएगा। कंपनी के ऑफर पूरी तरह से प्राकृतिक और आयुर्वेदिक तथा विश्वभर में सभी महिलाओं और पुरुषों को ब्यूटी बढ़ाने का स्थायी अनुभव देने, खूबसूरत परिवर्तन लाने के लिए कई रेंज, और फॉर्मूलेशन में उपलब्ध है।

वैदिक्स् के बारे में:

वैदिक्स्, इंकनट डिजिटल की एक सहायक - एक प्रमुख ग्लोबल ब्यूटी और वेलनेस प्लेटफॉर्म, जिसे साइट पर वुमन रीडर्स से प्राप्त हजारों हेयर और स्किन केयर प्रश्नों और जिज्ञासाओं के समाधान के आधार पर संकल्पित किया गया है। 2018 के मध्य में चैतन्य नल्लन (सीईओ), वीरेंद्र शिवहरे (सीटीओ) और संग्राम सिम्हा (सीएमओ) द्वारा लॉन्च किया गया, भारत का पहला कस्टमाइज़्ड आयुर्वेदिक लाइफस्टाइल और वेलनेस ब्रांड है।

इंकनट, वैदिक्स् की मूल कंपनी, को 2013 की शुरुआत में वेंचर ईस्ट से पचास लाख रुपये की सीड फंडिंग प्राप्त हुई। 2018 में, जापानी समूह ब्रांड, इसस्टाइल ने वेंचर ईस्ट की हिस्सेदारी 28 करोड़ में हासिल की। जुलाई 2020 में, स्किनक्राफ्ट और वेदिक्स ने आरपीएसजी वेंचर्स के नेतृत्व में लगभग 4 मिलियन डॉलर की फंडिंग सीरीज़ ए फंडिंग जुटाई।

अधिक जानकारी के लिए विज़िट करें: https://vedix.com/

Popular posts
क्रेडाई द्वारा निर्माण मजदूरों को कार्यस्थल पर सामाजिक लाभ पहुंचाने के लिए समझौता ज्ञापन की घोषणा
Image
AB LAGEGA SABKA NUMBER: SEEMA PAHWA TURNS CALCULATING POLITICIAN GANGA DEVI FOR JAMTARA S2
Image
सोनी सब के शो ‘अलीबाबा दास्‍तान-ए-काबुल’ के अली, मरियम और सिमसिम भोपाल पहुंचे; सपोर्ट के लिये दर्शकों को दिया धन्‍यवाद
Image
ऑफिस ने रखा इंदौर में कदम; 3 महीने के भीतर क्षमता दोगुनी की
Image
अपने सपनों को हकीकत में बदलना परिचय: इस राष्ट्रीय बालिका दिवस पर, हम एक छोटे शहर की लड़की के धैर्य, दृढ़ता और जोश की कहानी सुनाते हैं जिनसे उसे कठिन समय का सामना करने में मदद की।
Image