सीमा भवानी शौर्य काफिला ‘एम्पावरमेंट राइड- 2022’ रॉयल एनफील्ड के सहयोग में नई दिल्ली से कन्याकुमारी तक


  



जयपुर, 5th मार्च, 2022: बीएसएफ सीमा भवानी शौर्य काफिला, “एम्पावरमेंट राइड-2022” को 8 मार्च 2022 को सुबह 10 बजे नई दिल्ली के इंडिया गेट से हरी झंडी दिखाई जाएगी। अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के दिन यह यात्रा शुरू होगी। रॉयल एनफील्ड के सहयोग में, बीएसएफ सीमा भवानी ऑल-वुमेन डेयरडेविल मोटरसाइकल टीम की 36 सदस्यों के साथ इसका आयोजन हो रहा है। इस टीम का नेतृत्व इंस्पेक्टर हिमांशु सिरोही कर रहे हैं। यह काफिला 5280 किलोमीटर के मुश्किल सफर पर निकलेगा और देश के प्रमुख शहरों से होते हुए कन्याकुमारी और चेन्नई तक पहुंचेगा। इसके माध्यलम से पूरे देश में महिला सशक्तिकरण का संदेश दिया जाएगा।


बीएसएफ सीमा भवानी ऑल-वीमन डेयरडेविल मोटरसाइकिल टीम 2016 में बनी और इसके खाते में कुछ बेहद ही हैरतअंगेज और जबर्दस्त प्रदर्शन है, जिसमें साल 2018 और 2022 में नई दिल्ली में राजपथ पर गणतंत्र दिवस के मौके पर दो बार कौशल प्रदर्शन शामिल है। 


बीएसएफ सीमा भवानी शौर्य काफिला “एम्पावरमेंट राइड- 2022” देश के कोने-कोने का भ्रमण करेगी, जिसमें सारे ऐतिहासिक स्थलों को शामिल किया रहा है। इसकी शुरूआत दिल्ली के इंडिया गेट से होगी और तमिलनाडु के चेन्नई रॉयल एनफील्डम के इंडिया टेक्निकल सेंटर में समापन से पहले पंजाब के वाघा अटारी सीमा और गुजरात में स्टैच्यू ऑफ यूनिटी तक पहुंचेगी। यह काफिला 28 मार्च 2022 को चेन्नई में अपने आखिरी पड़ाव पर पहुंचने से पहले चंडीगढ़, अमृतसर, बीकानेर, जयपुर, उदयपुर, गांधीनगर, भरुच, नाशिक, पुणे, सोलापुर, हैदराबाद, बेंगलुरू, मदुरै और कन्याकुमारी, अनंतपुर और सलेम से होकर गुजरेगा।


यह टीम पूर्वाग्रह, रूढ़ियों और भेदभाव से आजादी पर जोर देते हुए महिलाओं की क्षमताओं के बारे में जागरूक करने और संवेदनशील बनाने के इरादे से विभिन्न चालक समुदायों और दर्शकों के साथ बातचीत करेगी। बीएसएफ सीमा भवानी शौर्य काफिला "एम्पावरमेंटर राइड- 2022" महिलाओं की उपलब्धियों की बात करता है और इसका उद्देश्य महिलाओं की सकारात्मक दिखाना है, ताकि देश भर में युवा लड़कियों और महिलाओं को देश के भविष्य को आकार देने में प्रमुख भूमिका निभाने के लिये प्रोत्साहित किया जा सके। 


टिप्पणी

अनुज दुआ, ग्लोबल ब्रांड हेड, क्लासिक, रॉयल एनफील्ड का कहना है, “पिछले 70 सालों से रॉयल एनफील्ड में भरोसेमंद और विश्वसनीय मशीनें बनाकर देश की सेवा करते हुए हमें गर्व का अनुभव हो रहा है, जोकि भारतीय सशस्त्र बलों का सबसे भरोसेमंद साथी रहा है। हम लगातार उन रूढ़ियों को तोड़ने की कोशिश कर हे हैं और देशभर में महिला चालकों को सक्रिय रूप से सहयोग दे रहे हैं। हमने ज्यादा से ज्यादा महिलाओं को अपने जुनून को आगे बढ़ाने का प्रोत्साहन देकर मोटरसाइकिल चलाने का सही रूप में आनंद लेने के लिये कम्युनिटी के लिये कई मौके तैयार किये हैं। सीमा भवानी शौर्य काफिले के साथ हमारी साझेदारी और उनके साथ प्रयासों में उन्हें सक्षम बनाना, लंबे समय से सशस्त्र बलों के साथ हमारी प्रतिबद्धता के लिये सम्मान की बात है । हमें बीएसएफ और सीमा भवानी टीम के साथ साझीदारी करते हुए खुशी का अनुभव हो रहा है और इस साहसिक उत्सव के लिये हम उन्हें शुभकामनाएं देते हैं।”