वार्ड क्रमांक 53 के पार्षद कोरोना कॉल में कर रहे जरूरतमंदों की लगातार मदद।


*मानव सेवा ही प्रभु सेवा है* का जगाया अलख।


उज्जैन यह सच है कि कोई भी व्यक्ति दूसरे को वही दे सकता है जो उसके पास होता है  हम किसी को प्रेम, मैत्री, समय,व भावनाएं प्रदान करते हैं, तो इसका अर्थ है कि हमारे पास मानवीय संवेदनाएं और कोमल भावनाओं की कमी नहीं है ।मुसीबत इस घड़ी में में यदि हम किसी का भला करते हैं तो  हमारा मन स्वस्थ रहता है, और व्यक्तित्व  व्यापक बनाता है ।अपनी सद्भावना के भाव को अन्य लोगों या प्राणियों में वितरित करें जो आप से जुड़े तो नहीं है पर जरूरतमंद है। ऐसे ही लोगों की सेवा में लगे हैं  वार्ड क्रमांक 53  के यशस्वी पार्षद  सुनील बोरासी निस्वार्थ भाव से
*मानव सेवा ही प्रभु सेवा है* के उद्देश्य से कोरोना वायरस के संक्रमण से फैल रही वैश्विक महामारी के दौर में जारी लॉक डाउन/ कर्फ्यू में अपने वार्ड क्षेत्र में  रहने वाले निराश्रित, दिहाड़ी मजदूर व बेघर जरूरतमंदों को भोजन के पैकेट के साथ सूखे राशन के कीट वितरण करने का पुनीत कार्य अपने दो भाइयों अनिल बोरासी वह शाम बोरासी के साथ मिलकर लॉक डाउन/ कर्फ्यू के प्रथम फेस से तीसरे फेस में भी सतत कर रहे  है । पार्षद सुनील बोरासी  ने बताया कि लॉक डाउन /कर्फ्यू के प्रथम फेस में शासन द्वारा  प्राप्त  150  सूखे राशन के किट व 500 तैयार भोजन के पैकेट उनके द्वारा वितरित किए गए थे । इसके बाद  से  वे स्वयं के खर्च से प्रतिदिन वार्ड के क्षेत्रों में 30 से 40 जरूरतमंद परिवार के लोगों को सूखे राशन के किट वितरित किए जा रहे हैं ।अभी तक लगभग 1000 से अधिक सुखे राशन  के किट के अलावा  भोजन के पैकेट वितरित किए जा चुके हैं तथा एक हजार के लगभग फिट तैयार करके रखे हुए हैं जिनका वितरण किया जाएगा। लॉक डाउन /कर्फ्यू के तीसरे फैस में  सब्जी के ठेले पर लगी रोक  के बाद लोगों को सब्जी की परेशानि आने पर एक अनोखा निर्णय लेते हुए प्रतिदिन ग्रामीण क्षेत्र से किसानों से सब्जी खरीद कर उनके किट तैयार करके जरूरतमंद लोगों के साथ ही वार्ड के अन्य लोगों को भी वितरित किए जा रहे हैं। जिसकी वार्ड के लोगों द्वारा काफी प्रशंसा की जा रही है।
आगे बोरासी ने कहा कि यदि लुक डाउन की अवधि बढ़ती है तो भी वे सेवा के इस कार्य से पीछे नहीं हटेंगे,।
उल्लेखनीय है कि उज्जैन शहर में 54वार्ड है जहां पर अधिकतर वार्डों में संकट के इस दौर में जरूरतमंद लोग राशन के लिए तरस रहे हैं ऐसे में वार्ड क्रमांक 53 के पार्षद भीमा शाह की तरह डटे हुए हैं।


Popular posts
मिलिए एंडटीवी के 'हप्पू की उलटन पलटन' की नई दबंग दुल्हनिया 'राजेश' उर्फ ​​गीतांजलि मिश्रा से!
Image
एण्डटीवी की नई प्रस्तुति ‘अटल‘ अटल बिहारी वाजपेयी के बचपन की अनकही कहानियों का होगा विवरण्
Image
"मैं अपने किरदार से गहराई से जुड़ा हूं क्योंकि उसी की ही तरह मैं भी कम शब्दों में बहुत कुछ कह देता हूं" ज़ी थिएटर के टेलीप्ले 'तदबीर' में वे एक पूर्व सेना अधिकारी की भूमिका निभा रहे हैं
Image
हर जुबां पर बुंदेली ज़ायके का स्वाद चढ़ाने आ रहा बुंदेली शेफ सीजन-2 18 से 45 वर्ष तक की बुंदेली महिलाएं ले सकती हैं हिस्सा प्रतियोगिता में देश के किसी भी कोने से ले सकते हैं भाग बुंदेली शेफ विजेता को मिलेंगे 50 हजार रुपये तक के आकर्षक उपहार
Image